लाइव टीवी

कोरोना वायरस का असर: जानिए क्यों तेजी से गोल्ड में निवेश कर रहे लोग, आपके पास भी है मौका

भाषा
Updated: March 12, 2020, 6:31 PM IST
कोरोना वायरस का असर: जानिए क्यों तेजी से गोल्ड में निवेश कर रहे लोग, आपके पास भी है मौका
लगातार बढ़ रहा गोल्ड में निवेश

एक तरफ कोरोना वायरस की वजह से शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिल रही है. वहीं दूसरी तरफ, अब सुरक्षित निवेश के तौर पर सोना ही लोगों की पहली पसंद बनता जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोनावायरस (Corona Virus) के महामारी का रूप लेने के बीच निवेशक निवेश के सुरक्षित विकल्पों की ओर रुख कर रहे हैं. अर्थव्यवस्था में सुस्ती (Economic Slowdown) के बीच फरवरी में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (Gold ETF) में 1,483 करोड़ रुपये का निवेश हुआ. यह इसका सर्वकालिक उच्च स्तर है.

टूटते शेयर बाजार और सस्ता कच्चा तेल है वजह
यह लगातार चौथा महीना है जबकि Gold ETF में शुद्ध निवेश हुआ है. गोल्ड ईटीएफ में यह निवेश ऐसे समय आया है जबकि शेयर बाजारों में जबर्दस्त बिकवाली चल रही है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आई है. एसोसिएशन आफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया के ताजा आंकड़ों के अनुसार गोल्ड ईटीएफ में फरवरी में शुद्ध रूप से 1,483 करोड़ रुपये का निवेश हुआ. यह इसका सर्वकालिक उच्चस्तर है.

यह भी पढ़ें: Yes Bank संकट बाद अब इन 3 बैंकों के ग्राहक टेंशन में, जानें क्यों बढ़ी चिंता



इससे पिछले महीने गोल्ड ईटीएफ में 202 करोड़ रुपये का निवेश आया था, जो इसका सात साल का उच्चस्तम था. इससे पहले दिसंबर, 2019 में गोल्ड ईटीएफ में 27 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था. नवंबर में 7.68 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था. हालांकि, अक्टूबर में निवेशकों ने गोल्ड ईटीएफ से शुद्ध रूप से 31.45 करोड़ रुपये निकाले थे. सितंबर में गोल्ड ईटीएफ में 988 करोड़ रुपये का निवेश आया था.



मॉर्निंगस्टर इन्वेस्टमेंट एडवाइजर इंडिया के वरिष्ठ शोध प्रबंधक हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘दुनियाभर में कोरोनावायरस तेजी से फैल रहा है. वैश्विक अर्थव्यवस्था इसकी गिरफ्त में आ चुकी है. ऐसे में निवेश के सुरक्षित विकल्प सोने के प्रति निवेशकों का आकर्षण बढ़ा है. इस वजह से फरवरी में गोल्ड ईटीएफ में निवेश सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया.’’

यह भी पढ़ें: SpiceJet का धमाकेदार ऑफर, 987 रुपये में करें हवाई टिकट बुक

घरेलू शेयर बाजार में भारी बिकवाली
बता दें कि गुरुवार को भी घरेलू शेयर बाजार में भारी बिकवाली देखने को मिली. दिनभर के कारोबार के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 2919 अंक टूटकर 32,778 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं, NSE निफ्टी 50 भी 868 अंक टूटकर 9,590 के स्तर पर बंद हुआ. घरेलू बाजार में यह एक कारोबारी सत्र में यह अब तक ऐतिहासिक गिरावट है.

आसानी से कर सकते हैं गोल्ड से कमाई 
साल 2013 के बाद लोगों में फिजिकल गोल्ड के अलावा भी दूसरे विक्लपों में रूचि देखने को मिली है. इसका सबसे बड़ा कारण है कि लोगों को फिजिकल गोल्ड से इतर पेपर गोल्ड (Paper Gold) में निवेश के कई विकल्प मिल रहे हैं.

यही नहीं, सोने में निवेश से कमाई के अलावा भी लोगों को गोल्ड डिलीवरी का विकल्प भी मिल रहा है. निवेशकों के अलावा आम लोग भी पेटीएम गोल्ड, सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड, गोल्ड ETF जैसे निवेश के विकल्प का भरपूर फायदा उठा रहे हैं.

एमसीएक्स गोल्ड निवेशकों को कम से कम 1 ग्राम सोना खरीदने का विकल्प दे रहा है. एमसीएक्स गोल्ड में इस निवेश की खास बात है कि न्यूनतम 1 ग्राम सोने को भी अपने डीमैट अकाउंट में रखा जा सकता है. जरूरत पड़ने पर इसकी डिलीवरी भी ली जा सकती है.

यह भी पढ़ें:  जल्द सस्ती हो सकती हैं मोबाइल फोन और जूता-चप्पल समेत ये चीजें, जानिए वजह

India Post ने शुरू की नई सर्विस, देश में पहली बार ला रहा है फ्री डिजिटल लॉकर

किसानों के खाते में कब आएंगे स्कीम के ₹6000, अब घर बैठे ऐसे करें पता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 12, 2020, 6:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading