सरकार की इन योजनाओं के तहत घर बैठे आपको मिलेंगे सालाना 36 हजार रुपये!

सरकार की इन योजनाओं के तहत घर बैठे आपको मिलेंगे सालाना 36 हजार रुपये!
देश के दो सरकारी बैंकों ने अपने ग्राहकों को फायदा देने के लिए लोन पर ब्‍याज दरों में कटौती की है.

केंद्र सरकार की ऐसी कई योजनाएं हैं, जिसे विभिन्न वर्ग को वित्तीय रूप से मदद करती है. पिछले साल ही मोदी सरकार (Modi Government) ऐसी कुछ योजनाओं को लॉन्च किया है. सबसे खास बात है इनके लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया बेहद आसाना है और अधिक डॉक्युमेंट्स की भी जरूरत नहीं होती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार गरीब और जरूरतमंद लोगों को वित्तीय रूप से मदद करने के लिए कई तरह की योजनाएं चलाती है. सरकार की अधिकतर योजनाएं गरीब, विकलांग, विधवा, वरिष्ठ नागरिक आदि के लिए होता है. इसके तहत उनके खाते में सीधे तौर पर कैश या अन्य जरूरी चीजें भी मुहैया कराई जाती हैं. हाल ही में कोरोना संकट को देखते हुए केंद्र सरकार 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज (Economic Package 2.0) का ऐलान किया, ​जिसका एक बड़ा हिस्सा इन्हीं जरूरतमंद लोगों के लिए है.

ऐसे में आज हम आपको सरकार की कुछ ऐसी स्कीम्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आपकी कमाई हो सकती है. हम आपको मजूदर, किसान और व्यापारी वर्ग के लिए इन स्कीम्स के बारे में बताने जा रहे हैं. इन तीनों स्कीम्स के माध्यम से हर साल करीब 65 लाख लोगों को 36 हजार रुपये सालाना पेंशन के रूप में दिए जाते हैं. तो आइए जानते हैं इनके बारे में...

यह भी पढ़ें: देश के बड़े बैंकों से जल्दी यहां पैसा होगा डबल, मिल रहा 9 फीसदी ब्याज



1. सबसे पहले बात करते हैं पीएम श्रमयोगी मानधन योजना (PM Shramyogi Mandhan Yojana) की. इस योजना को मोदी सरकार ने पिछले ही शुरू किया था, जिसके तहत असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को सरकार पेंशन देती है. इस योजना के तहत केंद्र सरकार 60 से अधिक उम्र के लोगों को हर महीने 3 हजार रुपये की पेंशन देती है. अगर आप भी असंगठित क्षेत्र (Unorganized Sector) में काम करने वाले हैं और आपकी उम्र 60 से अधिक है तो आपको सरकार की तरफ हर साल 36 हजार रुपये पेंशन के तौर पर दिए जाएंगे. श्रम एवं रोजगार मंत्रालय (Ministry of Labour and Employment) द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, इस योजना से करीब 43.7 लाख लोग जुड़ चुके हैं. इसका लाभ केवल उन्हीं लोगों को दी जाती है, जिनकी मासिक कमाई 15 हजार रुपये से कम है.
2. केंद्र सरकार की ऐसी दूसरी योजना प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Maan Dhan Yojana) है, जिसके तहत किसानों को पेंशन दी जाती है. 18 साल से 40 साल की उम्र के बीच का कोई भी किसान इस योजना का हिस्सा बन सकता है. जब उनकी उम्र 60 साल से अधिक होगी तो सरकार उन्हें प्रति महीने 3 हजार रुपये पेंशन के रूप में देगी. इस योजना के तहज रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको कोई फीस नहीं देनी होगी. इसके लिए किसानों को बस कॉमन सर्विस सेंटर (CSC- Common Service Center) पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा. रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड, दो फोटो और बैंक के पासबुक की जरूरत होगी. रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको एक किसान पेंशन यूनिक नंबर दिया जाएगा और पेंशन कार्ड बनाया जाएगा. इस योजना के तहत अब तक करीब 20 लाख किसान रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं.

यह भी पढ़ें: इस वजह से पीएम किसान स्कीम में नहीं मिले लाखों किसानों को 2000 रुपये!

3. छोटे व्यापारियों के लिए केंद्र सरकार एक ऐसी ही योजना चलाती है, जिसका नाम प्रधानमंत्री लघु व्‍यापारी मानधन योजना (PM Laghu Vyapari Maan-dhan Yojana) है. इस योजना को भी मोदी सरकार ने पिछले साल ही लॉन्च किया था. इसके योजना के तहत भी छोटे व्यापारी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. इसके तहत रजिस्ट्रेशन होने के बाद छोटे व्यापारियों की उम्र 60 साल होने के सरकार हर महीने 3,000 रुपये का पेंशन देती है. इस योजना के लिए कॉमन सर्विस सेंटर जाकर रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके तहत ​रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आपको आधार नंबर और बैंक अकाउंट के अलावा अन्य किसी डॉक्युमेंट्स की जरूरत नहीं होगी.

यह भी पढ़ें: घर बैठे SBI में खोलें ये खास अकाउंट, बचत के साथ फ्री में मिलेंगी कई सुविधाएं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading