लाइव टीवी

ब्रिटिश पेट्रोलियम को पीछे छोड़ एनर्जी सेक्टर में दुनिया की छठी सबसे बड़ी कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज

News18Hindi
Updated: November 21, 2019, 4:59 PM IST
ब्रिटिश पेट्रोलियम को पीछे छोड़ एनर्जी सेक्टर में दुनिया की छठी सबसे बड़ी कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज
मुकेश अंबानी

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) ब्रिटिश कंपनी बीपी (BP-British Petroleum) को पीछे छोड़ते हुए एनर्जी सेक्टर की छठी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2019, 4:59 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मार्केट कैप के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी आरआईएल (RIL-Reliance Industries Ltd) अब एनर्जी सेक्टर में दुनिया की प्रमुख कंपनियों की रैंकिंग में छठे स्थान पर पहुंच गई है. रिलायंस ने मार्केट कैप में मंगलवार को ब्रिटिश कंपनी बीपी (BP-British Petroleum) को पीछे छोड़ दिया. मंगलवार को रिलायंस का मार्केट कैप 138 अरब डॉलर (9.90 लाख करोड़ रुपये) रहा. वहीं, बीपी का 132 अरब डॉलर है. पहले नंबर पर अमेरिका की एक्सॉन मोबिल (Exxonmobil) है. उसका मार्केट कैप 290 अरब डॉलर है.

एशिया में सबसे अमीर मुकेश अंबानी : आरआईएल के शेयर में तेजी से कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी की नेटवर्थ में भी इजाफा हुआ है. ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक उनकी मौजूदा नेटवर्थ 5600 करोड़ डॉलर (4.15 लाख करोड़ रुपये) है. वह एशिया में सबसे अमीर हैं. अलीबाबा के जैक मा अब नंबर दो पर आ गए है. RIL के शेयर में मंगलवार की तेजी से उन्हें 1.93 अरब डॉलर का फायदा हुआ.

ये भी पढ़ें: दुनिया की 324 बड़ी कंपनियों को भारत में फैक्ट्री लगाने के लिए आसानी से मिलेगी जमीन, सरकार का नया मास्टर स्ट्रोक
निवेशक हुए मालामाल : रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में आई तेजी के चलते मंगलवार को कंपनी का मार्केट कैप अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था. आरआईएल के शेयरों ने एक हफ्ते में 5.45 फीसदी, एक महीने में 6.36 फीसदी, तीन महीने में 17 फीसदी, 9 महीने में 24 फीसदी और एक साल में 31 फीसदी का बंपर रिटर्न दिया है. हालांकि, गुरुवार को NSE (Nation Stock Exchange) पर आरआईएल का शेयर आधा फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है.



देश की 10 सबसे बड़ी कंपनियों की लिस्ट यहां देखें (मार्केट कैप के लिहाज से मनीकंट्रोल पर जारी लिस्ट)

(1) रिलायंस इंडस्ट्रीज- मार्केट कैप - 9.7 लाख करोड़ रुपये(2) टीसीएस (टाटा कंस्लटेंसी सर्विसेस)- मार्केट कैप-7.91 लाख करोड़ रुपये
(3) HDFC बैंक-मार्केट कैप-7 लाख करोड़ रुपये
(4) HUL (हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड) - मार्केट कैप-4.40 लाख करोड़ रुपये
(5) HDFC लिमिटेड-मार्केट कैप-3.83 लाख करोड़ रुपये
(6) ICICI बैंक- मार्केट कैप-3.21 लाख करोड़ रुपये
(7) ITC (इंडियन टोबैको कंपनी)-मार्केट कैप-3.04 लाख करोड़ रुपये
(8) इन्फोसिस-मार्केट कैप-3.03 लाख करोड़ रुपये
(9) कोटक महिंद्रा बैंक-मार्केट कैप-3.03 लाख करोड़ रुपये
(10) SBI-मार्केट कैप-2.94 लाख करोड़ रुपये

ये भी पढ़ें: आपने भी लगाया है अपने भविष्य के लिए सरकारी स्कीम NPS में पैसा, तो जान लीजिए नए नियमों के बारे में...
 डिस्क्लेमर: न्यूज़18 हिंदी रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2019, 3:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर