Corona Vaccination: रिलायंस शुरू करेगी अपना कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम R-Surakshaa

नीता अंबानी ने कहा कि रिलायंस फाउंडेशन कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देशवासियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है. फाइल फोटो

नीता अंबानी ने कहा कि रिलायंस फाउंडेशन कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देशवासियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है. फाइल फोटो

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) ने अपने स्वयं के कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम आर-सुरक्षा (R-Surakshaa) की घोषणा कर दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 24, 2021, 8:53 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश भर में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. इसको देखते हुए देश में कोरोना वैक्सीनेशन (Vaccination) का चौथा चरण 1 मई से शुरू हो रहा है. 18 साल से अधिक की उम्र के लोगों को 1 मई से वैक्सीन लगने लगेगी. वहीं, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) ने अपने स्वयं के कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम आर-सुरक्षा (R-Surakshaa) की घोषणा कर दी है. इसके तहत कंपनी के 18 साल से अधिक आयु के सभी कर्मचारियों और पात्र परिवार के सदस्यों को एक मई से मुफ्त टीका लगवाया जाएगा.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) और निदेशक नीता अंबानी (Nita Ambani) ने रिलायंस परिवार के सभी कर्मचारियों को लिखे पत्र में बताया कि बिना किसी देरी के वैक्सीनेशन का लाभ उठाएं.

16 जनवरी से शुरु हुआ था कोरोना वैक्सीनेशन का पहला चरण

बता दें कि देशव्यापी वैक्सीनेशन अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था. 16 जनवरी से स्वास्थ्यकर्मियों के लिए और 2 फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए वैक्सीनेशन शुरू हुई थी. 1 अप्रैल से 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत हुई थी.
देश में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 3,32,730 नए मामले

गौरतलब है कि देश में शुक्रवार को एक दिन में रिकॉर्ड 3,32,730 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,62,63,695 हो गए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक 24 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं जबकि 2,263 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 1,86,920 पर पहुंच गई है. संक्रमण के ये आंकड़े शुक्रवार सुबह 8 बजे दर्ज किए गए हैं.

(डिस्क्लेमर- नेटवर्क18 और टीवी18 कंपनियां चैनल/वेबसाइट का संचालन करती हैं, जिनका नियंत्रण इंडिपेंडेट मीडिया ट्रस्ट करता है, जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज एकमात्र लाभार्थी है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज