अपना शहर चुनें

States

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ब्रिटेन की खिलौना बनाने वाली कंपनी हैमलीज को खरीदा

रिलायंस ब्रांड्स (Reliance Brands) ने खिलौना बनाने वाली कंपनी हेमलीज के 100 फीसदी शेयर अधिग्रहण करने के लिए हांगकांग की लिस्टेड कंपनी सी बैनर इंटरनेशन (C Banner International) के साथ एक समझौता किया है.

  • Share this:
रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) की सब्सिडियरी रिलायंस ब्रांड्स (Reliance Brands) ने खिलौना बनाने वाली कंपनी हैमलीज के 100 फीसदी शेयर अधिग्रहण करने के लिए हांगकांग की लिस्टेड कंपनी सी बैनर इंटरनेशन (C Banner International) के साथ एक समझौता किया है. बता दें कि मनीकंट्रोल ने 17 अप्रैल को सबसे पहले इस खबर को ब्रेक किया था. अधिग्रहण के आकार का खुलासा नहीं किया गया है. हैमलीज खिलौनों का मशहूर ग्लोबल ब्रांड है. रिलायंस के इस ब्रांड को खरीदने से टॉय रिटेल मार्केट में उसकी ताकत बढ़ेगी.

भारत में रिलायंस ब्रांड्स के पास थी हैमलीज की फ्रेंचाइजी

रिलायंस रिटेल की रिलायंस ब्रांड्स के पास हैमलीज की भारत की मास्टर फ्रेंचाइजी है. लंदन में खिलौने के एक पुराने स्टोर से हैमलीज ब्रांड शुरू हुआ था. भारत में यह कंपनी सबसे बड़ी टॉय रिटेलर बनकर उभरी है. रिलायंस ब्रांड्स भारत में सबसे अधिक विदेशी लेबल्स ऑपरेट करती है. उसके पास ज्वाइंट वेंचर और मास्टर फ्रेंचाइजी एग्रीमेंट्स के जरिये करीब चार दर्जन ब्रांड्स हैं.



ये भी पढ़ें- दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी अरामको खरीद सकती है RIL के रिफाइनिंग बिजनेस में हिस्सा: रिपोर्ट
18 देशों में 167 स्टोर

हैमलीज के 18 देशों में 167 स्टोर हैं. भारत में हैमलीज की फ्रेंचाइजी रिलायंस ऑपरेट करती है और 29 शहरों में इसके 88 स्टोर हैं. दिसंबर 2018 को खत्म साल में हेमलीज को 92 लाख पाउंड का घाटा हुआ था, जबकि एक साल पहले कंपनी ने 17 लाख पाउंड का मुनाफा कमाया था. 2015 में चीन के रिटेल ग्रुप सी बैनर इंटरनेशनल होल्डिंग्स ने लुडेंडो एंटरप्राइजेज यूके लिमिटेड से हैमलीज को खरीदा था.

इसे लंबे समय तक पोषित सपना करार देते हुए रिलायंस ब्रांड्स के अध्यक्ष और सीईओ दर्शन मेहता ने कहा, हमने भारत में हेमलीज ब्रांड के तहत टॉय रिटेलिंग में एक बहुत ही महत्वपूर्ण और लाभदायक बिजनेस बनाया है. यह वैश्विक अधिग्रहण रिलायंस को ग्लोबल रिटेल क्षेत्र की अग्रिम पंक्ति में रखता है.

डिस्क्लेमर: हिंदी न्यूज़ 18 डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज