फ्यूचर ग्रुप के रिटेल बिजनेस को खरीदेगी रिलायंस रिटेल, 24713 करोड़ रुपये की डील

फ्यूचर ग्रुप के रिटेल बिजनेस को खरीदेगी रिलायंस रिटेल, 24713 करोड़ रुपये की डील
रिलायंस रिटेल और फ्यूचर ग्रुप के बीच यह डील 24,713 करोड़ रुपये में हुआ है.

रिलायंस रिटेल (RRVL) ने फ्यूचर ग्रुप (Future Group) के रिटेल, होलसेल, लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउस के अधिग्रहण की घोषणा की है. दोनों कंपनियों के बीच यह डील एक विशेष स्कीम के तहत 24,713 करोड़ रुपये में होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 30, 2020, 12:47 PM IST
  • Share this:
मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने शनिवार को फ्यूचर ग्रुप (Future Group) के रिटेल, होलसेल बिजनेस, लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउस बिजनेस के अधिग्रहण की घोषणा की है. रिलायंस रिटेल और फ्यूचर ग्रुप के बीच यह डील 24,713 करोड़ रुपये में होगी. दोनों कंपनियों के बीच यह डील एक विशेष स्कीम के तहत हो रही है जिसमें फ्युचर ग्रुप भविष्य में बिजनेस करने वाली कुछ कंपनियों को फ्यूचर एंटरप्राइज लिमिटेड (FEL) में विलय कर रही है. इस स्कीम के तहत, रिलायंस और होलसेल उपक्रम को रिलायंस रिटेल एंड फैशन लाइफस्टाइल लिमिटेड (RRFLL) को ट्रांसफर किया जा रहा है.

इस स्कीम के तहत:

1. रिटेल और होलसेल होलसेल उपक्रम को रिलायंस रिटेल एंड फैशन लाइफस्टाइल लिमिटेड (RRFLL) को ट्रांसफर किया जा रहा है. इस कंपनी का स्वामित्व RRVL के पास है.



2. लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग उपक्रम को RRVL के पास ट्रांसफर किया जा रहा है.
3. RRFLL भी निवेश का प्रस्ताव लेकर आई है जो कि कुछ इस प्रकार हैं. विलय के बाद FEL में 6.09 फीसदी इक्विटी शेयर्स के लिए प्रीफरेंशियल इश्यू के जरिए 1200 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. इक्विटी वांरट के जरिए प्रीफरेंशियल इश्यू के लिए 400 करोड़ रुपये का निवेश होगा. 75 फीसदी रकम के कनवर्जन और पेमेंट के बाद RRFLL द्वारा अधिग्रहण पूरा होगा.



ईशा अंबानी ने क्या कहा
रिलायंस रिटेल वेंचर्स की निदेशक ईशा अंबानी ने कहा, 'इस ट्रांजैक्शन के बाद साथ हम फ्यूचर ग्रुप के इस पॉपुलर ब्रांड को अपना रहे हैं. हम इसके बिजनेस इकोसिस्टम को भी बचाएं रखेंगे. भारत में आधुनिक रिटेल बिजनेस के विकास में फ्यूचर ग्रुप ने एक अहम भूमिका निभाई है'

उन्होंने कहा, 'रिटेल इंडस्ट्री में ग्रोथ मोमेन्टम जारी रखने की उम्मीद है. हम एक बड़े कंज्यूमर ब्रांड के तौर पर अपने खास मॉडल के तहत छोटे कारोबारियों और किराना स्टोर को सक्रियता से सहयोग कर रहे हैं. हम देशभर के ग्राहकों को अपनी सर्विस देने के लिए प्रतिबद्ध हैं.' डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज