• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • रिलायंस इंडस्ट्री ने बनाया नया रिकॉर्ड! IOC को पीछे छोड़ बनी देश की नंबर-1 कंपनी

रिलायंस इंडस्ट्री ने बनाया नया रिकॉर्ड! IOC को पीछे छोड़ बनी देश की नंबर-1 कंपनी

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) अब फार्च्यूयन इंडिया 500 (Fortune India 500) सूची में शीर्ष पर पहुंच गई है. RIL को आम उपभोक्ताओं पर केन्द्रित कारोबार से इस स्थान पर पहुंचने में मदद मिली है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) अब फार्च्यूयन इंडिया 500 (Fortune India 500) सूची में शीर्ष पर पहुंच गई है. RIL को आम उपभोक्ताओं पर केन्द्रित कारोबार से इस स्थान पर पहुंचने में मदद मिली है. फार्च्यूयन इंडिया ने यह जानकारी देते हुये कहा कि 2018- 19 में 5.81 लाख करोड़ रुपये का कारोबार करने के साथ ही मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के नेतृत्व वाली RIL पहली कंपनी है जिसने कुल कारोबार के मामले में IOC को पीछे छोड़ा है. IOC पिछले लगातार दस साल से इस मुकाम पर बनी हुई थी.

    >> आईसीआईसीआई बैंक इस साल 12वें नंबर पर आ गई. 2018 में 14वीं रैंक थी. लार्सन एंड टूब्रो एक पायदान चढ़कर से 11वें नंबर पर आ गई.

    >> हिंडाल्को इंडस्ट्रीज 13वें नंबर पर बरकरार रही. एचडीएफसी बैंक 2 पायदान चढ़कर 14वें नंबर पर आ गई. वेदांता 15वें से 18वें नंबर पर फिसल गई.

    57 कंपनियां लिस्ट से बाहर- फॉर्च्यून इंडिया लिस्ट में शामिल सभी 500 कंपनियों के कुल रेवेन्यू में 9.53 फीसदी और मुनाफे में 11.8 फीसदी का इजाफा हुआ. 65 कंपनियों को कुल 1.67 लाख करोड़ रुपए का घाटा हुआ.

    >> पिछले साल 79 कंपनियों को 2 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था. इस साल 57 कंपनियां लिस्ट से बाहर हो गईं, उनकी जगह नई कंपनियों ने ली.

    >> निजी बैंकों में सिर्फ आईडीएफसी फर्स्ट (1,907.9 करोड़ रुपए) और लक्ष्मी विलास बैंक 894.1 करोड़ रुपए के घाटे में रहे. 24 प्राइवेट बैंकों का कुल मुनाफा 2017-18 के मुकाबले 6.16% बढ़कर 60,747 रुपए रहा.

    >> 500 कंपनियों के रेवेन्यू में ऑयल एंड गैस सेक्टर की 8 कंपनियों का 22.3% योगदान रहा. बैंकिंग सेक्टर की कंपनियों का शेयर 15.88% रहा.

    >> मुनाफे में ऑयल एंड गैस सेक्टर की कंपनियों का सबसे ज्यादा 23.44% योगदान रहा. कंपनियों की संख्या के मामले में बैंकिंग सेक्टर सबसे बड़ा रहा. इस सेक्टर की 48 कंपनियां लिस्ट में शामिल हुईं.

    डिस्क्लेमर: न्यूज़18 हिंदी रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज