लाइव टीवी

Jio का COAI पर आरोप! सरकार को लिखी चिट्ठी में हमारी राय शामिल नहीं

News18Hindi
Updated: October 30, 2019, 8:08 PM IST
Jio का COAI पर आरोप! सरकार को लिखी चिट्ठी में हमारी राय शामिल नहीं
टेलीकॉम सेक्टर की बड़ी कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने सीओएआई द्वारा डीओटी को लिखे गए पत्र पर जवाब देते हुए कहा है कि सेक्टर में किसी भी प्रकार की क्राइसिस नहीं है.

टेलीकॉम सेक्टर की बड़ी कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने सीओएआई द्वारा डीओटी को लिखे गए पत्र पर जवाब देते हुए कहा है कि सेक्टर में किसी भी प्रकार की क्राइसिस नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2019, 8:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टेलीकॉम सेक्टर की बड़ी कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने सीओएआई (Cellular Operators Association of India) द्वारा DoT (Department of Telecom) को लिखे गए पत्र पर जवाब देते हुए कहा है कि सेक्टर में किसी भी प्रकार की क्राइसिस नहीं है. जियो ने कहा है कि डीओटी को लिखी चिट्ठी में हमारी राय को शामिल नहीं किया गया है. जियो ने COAI पर सिर्फ दो कंपनियों का साथ देने का आरोप लगाया है. जियो ने सीओएआई को लिखे पत्र में साफ किया है कि जियो के प्रति ऑर्गेनाइजेशन (सीओएआई) का ये व्यवहार साबित करता है कि सीओएआई एक इंडस्ट्री ऑर्गेनाइजेशन नहीं है, बल्कि वो दो प्रमुख टेलीकॉम कंपनी का मुख पत्र है. आपको बता दें कि जियो ने COAI द्वारा दूरसंचार विभाग को भेजे गए पत्र में लगाए गए सभी आरोपों से इनकार किया है.

जियो ने कहा कि दो ऑपरेटर्स की विफलता से सेक्टर पर प्रभाव नहीं पड़ा है. इसके साथ ही इसका डिजिटाइजेशन और सरकारी प्रोग्राम पर भी कोई असर नहीं पड़ा है. COAI ने डीओटी को लिखे पत्र में टेलीकॉम सेक्टर पर वित्तीय दबाव के कारण होने वाली समस्याओं का जिक्र किया है.

जियो ने COAI पर गलत दलील देने का आरोप लगाया है. जियो ने COAI का ध्यान सुप्रीम कोर्ट के आदेश की ओर खींचा है और कहा है कि ऑपरेटर्स के पास इतनी क्षमता है कि वह सरकार की सभी बकाया राशि का भुगतान कर सकते हैं.

सीओएआई को एक संस्था के तौर पर कार्य करना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सवाल उठाने के बजाय संस्था के सदस्यों को सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान करने को कहना चाहिए.

यहां पढ़ें लेटर की कॉपी...

letter

letter2
Loading...

letter3

(डिस्क्लेमर: हिंदी न्यूज़ 18 डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 6:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...