बड़ी राहत: मनसुख मंडाविया बोले- रोजाना 3 लाख वॉइल Remdesivir का होगा प्रोडक्शन

रेमडेसिविर की मांग बढ़ गई है.

रेमडेसिविर की मांग बढ़ गई है.

रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख एल मंडाविया ने कहा कि 12 अप्रैल के बाद से रेमेडिसवियर के प्रोडक्शन के लिए 25 नए मैन्युफैक्चरिंग साइट्स को मंजूरी दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 9:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से पूरे देश में हाहाकार है. हर दिन तेजी से संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना संक्रमण के चलते रेमडेसिविर इंजेक्शन की भारी मांग और उसकी कमी से जूझ रहे लोगों के लिए राहत की खबर आई है. दरअसल, सरकार की कोरोना के इलाज में उपयोगी रेमडेसिविर (Remdesivir) का प्रोडक्शन बढ़ाने की योजना है.

रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख एल मंडाविया ने कहा कि 12 अप्रैल के बाद से रेमेडिसवियर के प्रोडक्शन के लिए 25 नए मैन्युफैक्चरिंग साइट्स को मंजूरी दी गई है. प्रोडक्शन क्षमता अब प्रति माह 90 लाख वॉइल तक बढ़ गई है. पहले यह 40 लाख वॉइल प्रति महीने थी.



उन्होंने कहा कि बहुत जल्द रोजाना 3 लाख वॉइल का प्रोडक्शन किया जाएगा. दैनिक आधार पर निगरानी की जा रही है. हम रेमेडिसवियर की आपूर्ति करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.
देश में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 3,32,730 नए मामले

गौरतलब देश में शुक्रवार को एक दिन में रिकॉर्ड 3,32,730 नये मामले सामने आए. इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,62,63,695 हो गए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक 24 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं जबकि 2,263 और लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 1,86,920 पर पहुंच गई है. संक्रमण के ये आंकड़े शुक्रवार सुबह 8 बजे दर्ज किए गए हैं.

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा केस



उल्लेखनीय है कि पिछले 24 घंटे में देश में दर्ज कोविड-19 के मामलों में 75.01 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात और राजस्थान से हैं. महाराष्ट्र में संक्रमण के सबसे अधिक रोजाना के मामले 67,013 दर्ज किये गए. इसके बाद उत्तर प्रदेश में 34,254 मामले, जबकि केरल में संक्रमण के 26,995 नए मामले दर्ज किये गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज