Coronavirus Impact: नई नौकरियों में आई 18% की गिरावट, जानिए किस सेक्टर में मिलेगी Job और कहां बढ़ेगी छटनी?

कंपनियां कर रह हैं छटनी

लगभग सभी सेक्टर्स की हाईरिंग में निगेटिव ग्रोथ दिख रही है लेकिन कुछ ऐसे सेक्टर्स हैं जहां नई नौकरिया आ भी रही हैं और कुछ ऐसे भी सेक्टर्स है जिसपर कोरोना की मार का सबसे ज्यादा असर देखने को मिल रहा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना संकट ने जॉब मार्केट को भी बदल दिया है. लगभग सभी सेक्टर्स की हाईरिंग में निगेटिव ग्रोथ दिख रही है लेकिन कुछ ऐसे सेक्टर्स हैं जहां नई नौकरिया आ भी रही हैं और कुछ ऐसे भी सेक्टर्स है जिसपर कोरोना की मार का सबसे ज्यादा असर देखने को मिल रहा है. naukri.com के मुताबिक कोरोना संकट ने देश भर में नई नौकरियां पर भी असर डाला है. naukri.com के अनुसार कोविड 19 के दौरान कुल हायरिंग में 18% की गिरावट देखने को मिली है जबकि ट्रैवल, एविएशन, हॉस्पिटैलिटी में 50% से ज्यादा कम आई है. वहीं रीटेल में 50% और ऑटो सेक्टर में 38% नौकरियों की कमी देखी जा रही है. हालांकि कुछ ऐसे सेक्टर है जहां नई नौकरियां बढ़ी है. आइए जानते है कि

    किस सेक्टर से क्या है उम्मीद?
    IT, BPO जैसे रिमोट वर्क में कम गिरावट देखने को मिली है. IT/BPO/ KPO में हायरिंग 1% बढ़ी है. बंगलुरु में BPO/ITES में 6% हायरिंग बढ़ी है. वहीं पुणे में BPO/ITES में हायरिंग 21 % बढ़ी है. पुणे में Pharma में 21 % हायरिंग बढ़ी है.

    ये भी पढ़ें: इन अंक वाले जनधन खातों में सरकार डालेगी 500-500 रुपये, जानें यहां

    यहां हैं नौकरियां
    BigBasket, Grofers नई भर्तियां कर रहे हैं. वेयरहाउस मैनेजमेंट और डिलिवरी बॉय की भर्ती हो रही है. BigBasket 10000 लोगों की भर्ती करेगा जबकि Grofers 2000 लोगों की भर्ती करने पर विचार कर रहा है. Amazon, Flipkart, Dunzo में नौकरियां है. ऑनलाइन टीचिंग, नर्सिंग, फार्मा सेक्टर में भी नई नौकरियां आने की उम्मीद है.

    Mercer Mettl का अनुमान
    Mercer Mettl का अनुमान है कि BPO/ITES, Logistics , Pharma जैसे सेक्टर्स में अभी भी भर्ती हो रही है. वर्चुअल हाइरिंग का ट्रेंड बढ़ा है.

    कल से Oyo ने अपने कर्मचारियों को बिना सैलरी छुट्टी पर भेजा
    ओयो (Oyo) के फाउंडर रितेश अग्रवाल ने 8 अप्रैल को अपने दुनियाभर के कर्मचारियों को बिना सैलरी के छुट्टी (Leave without Pay) पर भेज दिया है. कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण टूर-ट्रैवल इंडस्ट्री का धंधा बिल्कुल बंद है. ऐसे में ओयो के बॉस ने अपने ज्यादातर कर्मचारियों को 60 से 90 दिनों के लिए छुट्टी पर भेज दिया है. अग्रवाल ने कर्मचारियों को दिए संदेश में कहा है कि पिछले कुछ हफ्तों में हालात काफी खराब हो चुके हैं. उन्होंने कहा है कि फिलहाल ओयो के रेवेन्यू और ऑक्यूपेंसी में 50 से 60 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. उन्होंने कहा कि इसकी वजह से कंपनी की बैलेंस शीट पर दबाव बढ़ रहा है.

    ये भी पढ़ें: कोरोना की वजह से नौकरी जाने पर अब नहीं सताएगी पैसों की टेंशन,ऐसे करें प्लानिंग

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.