PMGKY: तीसरा प्रोत्साहन पैकेज लाने की तैयारी में सरकार, मार्च तक मिल सकता है फ्री में अनाज और कैश!

सरकार प्रोत्साहन पैकेज 3.0 लाने की तैयारी कर रही है.
सरकार प्रोत्साहन पैकेज 3.0 लाने की तैयारी कर रही है.

कोरोना महामारी के आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिए सरकार प्रोत्साहन पैकेज 3.0 लाने की तैयारी कर रही है. इस पैकेज में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) के फायदों को अगले साल मार्च तक के लिए बढ़या जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 8:28 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: देशभर में फैली कोरोना महामारी के आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिए सरकार प्रोत्साहन पैकेज 3.0 लाने की तैयारी कर रही है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार इस पैकेज में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) के फायदों को अगले साल मार्च तक के लिए बढ़ा सकती है. केंद्र सरकार सामाजिक सुरक्षा के लिए इस योजना की अवधि को बढ़ाने का प्लान बना रही है. जून तक चलने वाली इस स्कीम को सरकार ने नवंबर तक के लिए बढ़ा दिया था.

मार्च तक बढ़ा सकती है योजना के फायदे
आपको बता दें देश की गरीब जनता को कोरोनावायरस महामारी से बचाने के लिए सरकार ने PMGKY योजना की घोषणा मार्च में थी. पहले इस योजना को जून तक के लिए लागू किया गया था, लेकिन देश की स्थिति को देखते हुए सरकार ने इसे नवंबर 2020 तक के लिए बढ़ाने का ऐलान किया था और अब एक बार फिर से खबरें आ रही हैं कि सरकार इस योजना के फायदों को मार्च तक के लिए बढ़ा सकती है.

यह भी पढ़ें: LPG Gas Cylinder Rules: अगले 4 दिन में बदल जाएगा आपके LPG रसोई गैस सिलेंडर से जुड़ा नियम, जानिए सबकुछ
क्या हो सकता है पैकेज 3.0 में?


लाइवमिंट की खबर के मुताबिक, इस योजना में सरकार कैश के साथ-साथ अनाज देने की समय सीमा को भी बढ़ा सकती है. एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि प्रोत्साहन पैकेज 3.0 में मांग बढ़ाने वाले और सामाजिक सुरक्षा देने वाले उपायों पर फोकस किया गया है.

PMGKY में कैश ट्रांसफर स्कीम को किया जा सकता है शामिल
रिपोर्ट के मुचाबिक, तीसरे प्रोत्साहन पैकेज में सरकार 20 करोड़ जन-धन खातों और 3 करोड़ गरीब सीनियर सिटीजन, विधवा और दिव्यांगों को कैश ट्रांसफर स्कीम को भी शामिल किया जा सकता है. यह कैश ट्रांसफर स्कीम भी PMGKY का हिस्सा है.

PMGKY के लाभ क्या-क्या हैं?
>> PMGKY के तहत सरकार एक व्यक्ति को एक महीने में 5 किलो चावल या गेहूं मुफ्त देती है. सरकार की इस योजना का फायदा देश के करीब 81 करोड़ लोगों मिल रहा है.
>> इसके अलावा 19.4 करोड़ हाउसहोल्ड को हर महीने 1 किलो चना मुफ्त दिया जाता है.
>> बता दें यह अनाज नेशनल फूड सिक्योरिटी एक्ट के तहत दिया जा रहा है.

जानिए क्या है PMGKY?
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिये ‘लॉकडाउन’ के प्रभाव से लोगों को बचाने के लिये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) योजना की घोषणा की थी. कुल 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज के तहत सरकार ने गरीबों को मुफ्त में राशन, महिलाओं और गरीब वरिष्ठ नागरिकों तथा किसानों को नकद सहायता देने आदि की घोषणा की थी. इसमें पीएम किसान स्कीम के तहत 8 करोड़ किसानों के खाते में सीधे रकम ट्रांसफर हुई है.

क्यों आगे बढ़ सकती है PMGKY की तारीख?
इस महामारी के बीच केंद्र सरकार ने देश की जनता से वादा किया था कि अनाज की कमी के कारण अगले पांच महीनों में किसी भी परिवार को भूखा नहीं रहने दिया जाएगा. ऐसा माना जा रहा है कि इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार इस स्कीम की तारीख को और आगे बढ़ा सकती है.

यह भी पढ़ें: नौकरी करने वालों के लिए खुशखबरी! 5000 रुपये हो सकती है EPS पेंशन, बुधवार को हो सकता है फैसला

बिहार चुनाव से पहले आ सकता है पैकेज
रिपोर्ट के मुताबिक सरकार जल्द ही इस पैकेज को ला सकती है और सरकार को इस पैकेज के राजनीतिक परिणाम भी मिल सकते हैं. बिहार चुनाव से पहले ये पैकेज आ सकता है. इसके अलावा उत्तर प्रदेश, गुजरात और मध्य प्रदेश सहित 11 अन्य राज्यों में उपचुनाव होने हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज