रिपोर्ट : तबादले के एक दिन बाद ही सुभाष चंद्र गर्ग ने मांगा रिटायरमेंट

सुभाष चंद्र गर्ग वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में वित्त सचिव के पद पर तैनात थे.

News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 9:54 AM IST
रिपोर्ट : तबादले के एक दिन बाद ही सुभाष चंद्र गर्ग ने मांगा रिटायरमेंट
तबादले के एक दिन बाद ही सुभाष चंद्र गर्ग ने मांगा रिटायरमेंट
News18Hindi
Updated: July 26, 2019, 9:54 AM IST
वित्त मंत्रालय के सबसे वरिष्ठ अधिकारी रहे सुभाष चंद्र गर्ग ने तबादले के एक दिन बाद ही अब रिटायरमेंट (वीआरएस) लेने का आवेदन दे दिया है. गर्ग को बुधवार को वित्त मंत्रालय से हटाकर बिजली मंत्रालय में ऊर्जा सचिव के पद पर नियुक्त किया गया था. भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक अभी तक ये स्पष्ट नहीं हो सका है कि सरकार उनका वीआरएस आवेदन स्वीकार करेगी भी या नहीं. सुभाष चंद्र गर्ग वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में वित्त सचिव के पद पर तैनात थे.

सुभाष चंद्र गर्ग अगले साल अक्टूबर में सेवानिवृत्त होने वाले हैं. सुभाष गर्ग की जगह निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) के सचिव अतनु चक्रबर्ती आर्थिक मामलों के नए सचिव बनाए गए हैं. गर्ग वित्त मंत्रालय में सबसे वरिष्ठ अधिकारी थे. अपने कार्यकाल के दौरान उनके पास वित्तीय नीति और आरबीआई संबंधी मामलों की जिम्मेदारी संभालते थे. बजट तैयार करने की प्रक्रिया में सुभाष गर्ग की बड़ी भूमिका हुआ करती थी. जैसा की सभी जानते हैं वित्त मंत्रालय को ऊर्जा मंत्रालय से काफी अहमियत दी जाती है.

इसे भी पढ़ें :- बाबा रामदेव की बड़ी जीत! लंबे इंतज़ार के बाद पतंजलि ने खरीद ली ये कंपनी

सूत्रों के मुताबिक सुभाष गर्ग गुरुवार सुबह वित्त मंत्रालय पहुंचे जरूर थे लेकिन वहां पर वह ज्यादा देर तक रुके नहीं. गर्ग 1983 बैच के राजस्थान कैडर के आईएएस हैं. 2014 में वे केंद्र में आए थे. 2017 में आर्थिक मामलों के विभाग (डीईए) के सचिव बने थे. इसी साल मार्च में ए एन झा के रिटायरमेंट के बाद गर्ग को वित्त सचिव बनाया गया था.

इसे भी पढ़ें :- सिर्फ 100 रुपये में खोले पोस्ट ऑफिस में ये अकाउंट, सेविंग अकाउंट से ज्यादा मिलेगा मुनाफा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 9:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...