PNB और BoI के ग्राहक ध्यान दें! RBI ने इन दो बैंकों पर लगाया 6 करोड़ का जुर्माना, जानें क्या है कारण

RBI ने इन 2 सरकारी बैंक पर लगाया 6 करोड़ का जुर्माना

RBI ने इन 2 सरकारी बैंक पर लगाया 6 करोड़ का जुर्माना

PNB (Punjab National Bank) और BoI (Bank of India) के ग्राहकों के लिए जरूरी खबर है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) ने इन दोनों बैंकों पर 6 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.

  • Share this:

नई दिल्ली: PNB (Punjab National Bank) और BoI (Bank of India) के ग्राहकों के लिए जरूरी खबर है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank of India) ने इन दोनों बैंकों पर 6 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. इन बैंकों पर मानदंडों के उल्लंघन के लिए यह जुर्माना लगाया गया है. बता दें इनमें से एक उल्लंघन धोखाधड़ी के वर्गीकरण और उसकी सूचना देने के नियम से संबंधित है. बैंक ऑफ इंडिया पर 4 करोड़ रुपये का जुर्माना और पंजाब नेशनल बैंक पर 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया.

आरबीआई ने एक बयान में कहा कि बैंक ऑफ इंडिया के इंस्पेक्शन ऑफ सुपरवाइजर इवेलुएशन (ISE) के लिए वैधानिक निरीक्षण 31 मार्च 2019 को किया गया था. बैंक ने एक खाते में धोखाधड़ी का पता लगाने के लिए एक समीक्षा की और धोखाधड़ी निगरानी रिपोर्ट (FMR) सौंपी.

यह भी पढ़ें: नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर! जल्द बढ़ जाएगा आपका PF, जानें क्या है सरकार का प्लान

रिपोर्ट में हुआ खुलासा
आरबीआई ने एक अलग बयान में कहा कि वित्तीय स्थिति के संदर्भ में पंजाब नेशनल बैंक का वैधानिक निरीक्षण किया गया. केंद्रीय बैंक ने कहा कि जोखिम मूल्यांकन रिपोर्ट की जांच से पता चला कि इन मामलों में मानदंडों का पालन नहीं किया गया है.

बैंकों को भेजा गया कारण बताओ नोटिस

आपको बता दें दोनों मामलों में सरकारी बैंकों को कारण बताओ नोटिस भेजे गए थे, जिसमें इन दोनों ही बैंकों से जुर्माना न लागने का कारण पूछा गया था. आरबीआई का कहना है कि नियामकीय अनुपालन में कमी के कारण दोनों बैंकों पर जुर्माना लगाया गया है.



यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के DA को लेकर बड़ी खबर! इस दिन मिलेगी बढ़ी हुई सैलरी

इन बैंकों पर भी लगाया जा चुका है जुर्माना

आपको बता दें कि इससे पहले, RBI ने बैंकिंग विनियमन अधिनियम की धारा 6(2) और धारा 8 के प्रावधानों के उल्लंघन के चलते देश के सबसे बड़े निजी बैंक HDFC पर 10 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया था. वहीं, महाराष्ट्र के प्रियदर्शिनी महिला नगरी सहकारी बैंक पर नियमों की अनदेखी के चलते 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज