लाइव टीवी

बाजार में नहीं होगी कैश कि किल्लत, RBI उठाने जा रहा ये कदम

भाषा
Updated: March 23, 2020, 10:53 PM IST
बाजार में नहीं होगी कैश कि किल्लत, RBI उठाने जा रहा ये कदम
भारतीय रिजर्व बैंक

वित्तीय बाजारों पर दबाव को देखते हुए रिजर्व बेंक ने बैंकिंग तंत्र में एक लाख करोड़ रुपये अतिरिक्त धन छोड़ने की घोषणा की है. केंद्रीय बैंक ने कहा है कि जरूरत पड़ने पर वह इस तरह के कदम आगे भी उठाएगा.

  • Share this:
मुंबई. कोरोना वायरस की वजह से आवागमन पर व्यापक पाबंदी के कारण वित्तीय बाजारों पर पड़ रहे दबाव के बीच रिजर्व बेंक ने बैंकिंग तंत्र में एक लाख करोड़ रुपये अतिरिक्त धन छोड़ने की घोषणा की है. केंद्रीय बैंक ने कहा है कि जरूरत पड़ने पर वह इस तरह के कदम आगे भी उठाएगा.

दो किस्तों में जारी करने की योजना
बैंक ने सोमवार को कहा, 'सरकारी प्रतिभूतियों की दीर्घ कालिक खरीद की व्यवस्था (सावधि रीपो) के तहत वह इसमें से 50,000 करोड़ रुपये की पहली किस्त को सोमवार को जारी कर दी गई है. इतनी ही राशि की दूसरी किस्त को मंगलवार को उपलब्ध कराई जाएगी.'

यह भी पढ़ें: लाखों पेंशनर्स के लिए राहत, दोगुनी हो सकती है न्यूनतम पेंशन



लिक्विडिटी की समस्या से निपटने की तैयारी
रिजर्व बैंक ने जारी किए गए एक वक्तव्य में कहा है कि किसी भी नकद धन की जरूरत को पूरा करने के लिए पहले से ही उपाय किए जा रहे हैं और कोरोना वायरस की वजह से किसी भी तरह की तंगी को दूर करने के लिए यह कदम उठाया जा रहा है.

प्राइमरी डीलर्स को भी मिलेगी अनुमति
रिजर्व बैंक ने इसके लिए एक लाख करोड़ रुपये की परिवर्तनीय रीपो दर नीलामी करने का फैसला किया है. बैंक ने कहा है कि उसकी यह पहल बैंकों को सस्ती दर पर धन उपलब्ध कराना है. इससे बैंकिंग प्रणाली में नकदी की उपलब्धता सुनिश्चित होगी. केन्द्रीय बैंक ने कहा है कि विशेष मामले के तहत अन्य पात्र भागीदारों के साथ ही प्राथमिक डीलरों को भी इन नीलामियों में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी.

यह भी पढ़ें: इस शर्त को पूरा किए बिना नहीं मिलेंगे PM-किसान सम्मान निधि स्कीम के 6000 रुपए!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 10:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर