खुदरा महंगाई दर 18 महीने में सबसे कम, दिसंबर में 2.19 फीसदी रही

फल-सब्जियों और फ्यूल की कीमतों में गिरावट से खुदरा महंगाई नीचे आई है.

News18Hindi
Updated: January 14, 2019, 7:58 PM IST
खुदरा महंगाई दर 18 महीने में सबसे कम, दिसंबर में 2.19 फीसदी रही
फल-सब्जियों और फ्यूल की कीमतों में गिरावट से खुदरा महंगाई नीचे आई है.
News18Hindi
Updated: January 14, 2019, 7:58 PM IST
खुदरा महंगाई दर दिसंबर में घटकर 2.19 फीसदी पर आ गई है. खाद्य उत्पादों की कीमतों में कमी की वजह से यह गिरावट दर्ज की गई. यह 18 महीनों का सबसे निचला स्तर है. आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक नवंबर में यह 2.33 फीसदी के स्तर पर थी. यह जून 2017 के बाद से दर्ज दर के सबसे निम्नतम स्तर पर है, जब यह 1.46 फीसदी था. वहीं थोक महंगाई दर भी घटकर 8 महीने के निचले स्तर 3.80 पर आ गई है. (ये भी पढ़ें: 2.5 से 5 लाख रुपये हो सकती है इनकम टैक्स छूट की सीमा, अंतरिम बजट में ऐलान संभव!)

सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय के जारी आंकड़ों के मुताबिक खाद्य मुद्रास्फीति दिसंबर में नकारात्मक बनी रही. यह शून्य से 2.51 फीसदी नीचे रही. नवंबर में खाद्य मुद्रास्फीति नकारात्मक 2.61 फीसदी पर थी. वहीं दिसंबर 2017 में यह 5.21 फीसदी पर थी.

फल-सब्जियों की कीमतों में गिरावट जारी
वहीं सब्जियों, फलों और प्रोटीन वाले सामान जैसे अंडों की कीमत घटी है और मांस, मछली और दालों की मुद्रास्फीति में मामूली तौर पर इजाफा हुआ है. दिसंबर में ईंधन और लाइट की मुद्रास्फीति 4.54 फीसदी रही. यह नवंबर में 7.39 प्रतिशत पर थी. साथ ही पेट्रोल, डीजल की कीमतों में आई गिरावट के कारण भी उत्पादों की कीमतें घटी है.

ये भी पढ़ें: थोक महंगाई दर के मोर्चे पर मिली राहत, दिसंबर में रही 3.80%




थोक महंगाई 8 महीने के निचले स्तर पर
दिसंबर 2018 में देश में थोक महंगाई दर घटकर 3.80 फीसदी पर आ गई. यह पिछले 8 माह का निचला स्तर है. इससे पहले अप्रैल 2018 में थोक महंगाई का सबसे कम 3.62 फीसदी का आंकड़ा दर्ज किया गया था.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...