लाइव टीवी

वित्त मंत्रालय को उम्मीद, 80% टैक्सपेयर्स अपनाएंगे नया टैक्स स्लैब- राजस्व सचिव

News18Hindi
Updated: February 7, 2020, 4:39 PM IST
वित्त मंत्रालय को उम्मीद, 80% टैक्सपेयर्स अपनाएंगे नया टैक्स स्लैब- राजस्व सचिव
कम-से-कम 80% टैक्सपेयर्स नई व्यवस्था को अपनाएंगे

वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने बजट (Budget 2020) में इनकम टैक्स का नया टैक्स स्लैब का ऐलान किया है. टैक्सपेयर्स को टैक्स स्लैब चुनने के दो विकल्प पेश किए गए हैं. पुराने टैक्स स्लैब में आपको टैक्स छूट का फायदा मिलेगा. लेकिन नए टैक्स स्लैब में आपको किसी तरह की छूट नहीं मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2020, 4:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वित्त मंत्रालय को उम्मीद है कि कम-से-कम 80 प्रतिशत करदाता व्यक्तिगत आयकर (Personal Income Tax) की नई व्यवस्था को अपनाएंगे. राजस्व सचिव अजय भूषण पांडे ने यह जानकारी दी. बता दें कि वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने बजट (Budget 2020) में इनकम टैक्स का नया टैक्स स्लैब का ऐलान किया है. टैक्सपेयर्स को टैक्स स्लैब चुनने के दो विकल्प पेश किए गए हैं. पुराने टैक्स स्लैब में आपको टैक्स छूट का फायदा मिलेगा. लेकिन नए टैक्स स्लैब में आपको किसी तरह की छूट नहीं मिलेगी. नए टैक्स स्ट्रक्चर में PF और स्वैच्छिक सेवानिवृति यानी वीआरएस से मिलने वाली छूट को बरकरार रखा गया है जबकि एलटीए, एचआरए के जरिए मिलने वाली सलाना छूट अगले वित्त वर्ष से नहीं मिलेंगे. इसे लेने के लिए आपको पुराने स्लैब से इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना पड़ेगा.

टैक्स स्लैब के दो विकल्प
पहला पुराना विकल्‍प है, जिसके तहत 5, 20 और 30 फीसदी वाले तीन टैक्‍स स्‍लैब थे. इस बार 5, 10, 15, 20, 25 और 30 फीसदी के 6 टैक्‍स स्‍लैब दिए हैं. नई व्‍यवस्‍था के तहत टैक्‍स लाभ लेने के लिए आपको कई तरह की रियायतें छोड़ने पड़ेंगी. ये भी पढ़ें: RBI का नया ऐलान! अब आपको बदलवानी होगी चेक बुक, ये है आखिरी तारीख



80C और 80D के तहत सभी छूट कीं खत्‍म
नई व्‍यवस्‍था के तहत अगर आप एम्‍प्‍लॉय प्रोविंडेंट फंड (PF) कटवा रहे हैं तो भी आपको 80C के तहत इनकम टैक्‍स में किसी तरह की राहत नहीं मिलेगी. सरकार ने नई व्‍यवस्‍था के तहत टैक्‍स छूट का फायदा लेने के लिए कई शर्तें लगा दी हैं. इसके मुताबिक, आपको फायदा लेने के लिए 80C और 80D के तहत मिलने वाली कई तरह की रिबेट छोड़नी होंगी. नए टैक्स सिस्टम की सबसे बड़ी और कड़ी शर्त इन छूटों को छोड़ना ही है. नए टैक्स सिस्टम में इनकम टैक्स के सेक्शन 80C, 80D, 24 के तहत मिलने वाली हर तरह की छूट का फायदा खत्म हो जाएगा.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! SBI से लोन लेना हुआ सस्ता, 10 फरवरी से इतनी कम हो जाएगी आपकी होम लोन EMIबिना छूट के ​कितना बचेगा टैक्स
नए टैक्स स्लैब में अगर किसी की सैलरी सालाना 7.5 लाख रुपये है तो पुराने टैक्स​ सिस्टम के तहत उन्हें 54,600 रुपये टैक्स के तौर पर देना होगा. वहीं, नए टैक्स स्ट्रक्चर के तहत उनका टैक्स 39 हजार रुपये बनता है. इस प्रकार नए टैक्स स्ट्रक्चर में उन्हें 15,600 रुपये सालाना का फायदा होगा. इसी प्रकार अगर किसी की सैलरी सालाना 10 लाख रुपये है तो उन्हें पुराने टैक्स स्ट्रक्चर के तहत 1,06,600 रुपये और नए टैक्स स्ट्रक्चर के तहत 78,000 रुपये का टैक्स देना होगा. नए टैक्स स्ट्रक्चर के तहत सालाना 10 लाख रुपये की सैलरी वाले लोगों को 28,600 रुपये का फायदा होगा.

इसी हिसाब से सालाना 12.5 लाख रुपये, 15 लाख रुपये और 20 लाख रुपये तक की सैलरी वाले लोग क्रमश: 49,400 रुपये, 62,400 रुपये और 62,400 रुपये की बचत कर सकेंगे. लेकिन, इस बचत के साथ आपको इस बात का ध्यान देना होगा कि किसी भी आय वर्ग के लोग कोई डिडक्शन क्लेम नहीं कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

इधर कैश में लेन-देन किया उधर मैसेज पर आ जाएगा इनकम टैक्स का नोटिस, अब होगी रियल टाइम मॉनिटरिंग
SBI के करोड़ों ग्राहकों को झटका! बैंक ने फिर कम किया FD पर मुनाफा, यहां चेक करें नए रेट्स
अब आधार के जरिए तुरंत मिलेगा PAN कार्ड, इस महीने शुरू होगी सुविधा
अब फटाफट क्लियर होगा आपका चेक, सितंबर से पूरे देश में लागू होगा नया सिस्टम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 4:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर