देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्री की 43वीं AGM आज, हो सकते हैं कई अहम ऐलान

देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्री की 43वीं AGM आज, हो सकते हैं कई अहम ऐलान
रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Reliance Industry Chairman Mukesh Ambani)

RIL 43rd AGM 2020- आज रिलायंस इंडस्ट्री की ऐनुअल जनरल मीटिंग होने जा रही है. पहली बार यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी. माना जा रहा है कि 500 अलग-अलग जगहों से इसमें 1 लाख शेयर होल्डर शामिल हो सकते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. मार्केट कैप के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्री की एजीएम (AGM-Annual General Meeting) यानी ऐनुअल जनरल मीटिंग में कंपनी के मेगा फ्यूचर प्लान का ऐलान हो सकता है. CNBC आवाज़ के मुताबिक, इसमें Reliance Jio डील और कंपनी के वक्त से पहले कर्ज मुक्त (Net Debt Free) होने की भी चर्चा हो सकती है. रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Reliance Industry Chairman Mukesh Ambani) फेसबुक जैसी टेक दिग्गजों के साथ भागीदारी का फायदा उठाने से जुड़े ऐलान कर सकते हैं. ये अनुमान भी है कि इस एजीएम में अंबानी शेयरधारकों के सामने अपनी प्रमुख कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज़ में तेल को रसायन में बदलने की बड़ी  विस्तार योजना पर भी शेयरधारकों को जानकारी देंगे.

रिटेल बिजनेस का ग्रोथ प्लान- इस बैठक में कंपनी के रिटेल बिजनेस के ग्रोथ प्लान पर फोकस रह सकता है. इसके साथ ही O-to-C बिजनेस का प्लान बताया जा सकता है. जानकारों का कहना है कि AGM में कंपनी Aramco डील के बारे में जानकारी दे सकती है. मॉर्गन स्टेनली के मुताबिक आज की एजीएम में इनविट और O-to-C बिजनेस में हिस्सेदारी बिक्री की प्रगति की जानकारी दी जाएगी.

इसके अलावा डिजिटल कारोबार में रणनीतिक भागीदारियों के बारे में और जानकारी मिल सकती है, वित्तीय कारोबार ग्रोथ प्लान की जानकारी मिलेगी और तेल से रसायन एकीकरण प्रक्रिया तथा नई टेक्नोलॉजी के बारे में बताया जाएगा.



आज की एजीएम में वैल्यू एडेड प्रोडक्ट्स को बनाने के लिए ऊर्जा कण को कॉर्बन मुक्त करने के बारे में कंपनी की योजना पर भी बात हो सकती है. इस तरह के उत्पादों से कॉर्बन इमीशन नहीं होगा. जानकारों का ये भी अनुमान है कि आज की एजीएम में कोरोना काल के बाद की कंपनी की कारोबारी रणनीतियों और संपत्तियों के मौद्रिकरण के बारे में भी जानकारी मिलेगी.




जियो प्लेटफॉर्म की लिस्टिंग, 5G को लेकर हो सकता है ऐलान-जियो प्लेटफॉर्म को दुनियाभर के निवेशकों से मिले इतने अच्छे रिस्पॉन्स के बाद इसकी लिस्टिंग को लेकर ऐलान हो सकता है. कंपनी पहले भी संकेत दे चुकी है कि वो इसमें निवेश जुटाने के लिए इंटरनेशनल मार्केट में लिस्टिंग कराएगी. साथ ही जियो फाइबर और 5G को लेकर भी कंपनी नए ऐलान कर सकती है. इंडिट्रेड कैपिटल के सुदीप बंदोपाध्याय ने बिजनेस स्टैंडर्ड को बताया है कि कंपनी बता सकती है कि जियो प्लेटफॉर्म्स को लेकर कंपनी की क्या योजना है. उन्होंने बताया कि 'लिस्टिंग की टाइमलाइन के साथ ये भी जानना अहम होगा कि इसकी लिस्टिंग भारतीय स्टॉक एक्सचेंज पर होगी या फिर इंटरनेशनल मार्केट में होगी'

कंपनी में क्वालकॉम वेंचर्स के निवेश को लेकर एनालिस्ट्स का मानना है कि ये कंपनी के 5G रोलआउट में अहम भूमिका अदा कर सकता है. क्वालकॉम वेंचर्स, क्वालकॉम का ग्लोबल फंड है जो दुनियाभर की 5G, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, ऑटोमोटिव, नेटवर्किंग और एंटरप्राइज में काम करने वाली बेहतरीन कंपनियों में निवेश करता है. इसके अलावा भी इस AGM से मार्केट ये जानना चाहेगा कि मैनेजमेंट की किस उभरते हुए बिजनेस पर नजरें हैं.

समय से पहले पूरा किया कर्जमुक्त का वादा- कोरोना संकट काल में भी अपने डिजिटल प्लेटफार्म में दुनिया के दिग्गज निवेशकों की तरफ से भारी निवेश जुटाने में सफल रही है.रिलायंस इंडस्ट्रीज की डिजिटल शाखा R-Jio प्लेटफॉर्म में कंपनी को 22 अप्रैल से 12 जुलाई तक कुल 25.24 फीसदी की हिस्सेदारी की ब्रिक्री से 1,18,318.45 करोड़ रुपये का निवेश मिला है.इसके अलावा कंपनी ने अपने मौजूदा शेयरधारकों को राइट इश्यू जारी कर 53,124 करोड़ रुपये और भी जुटाए हैं.



कंपनी ने एनर्जी और रिटेल कारोबार में भी हिस्सेदारी बेच कर 7,000 करोड़ रुपये जुटाये हैं. इस सब के चलते कंपनी अपने निर्धारित लक्ष्य से पहले कर्ज मुक्त हो गई है.

आपको बता दें कि 12 अगस्त, 2019 को हुई कंपनी की पिछली एजीएम में कंपनी के टेक्नॉलजी कारोबार और ऑयल से केमिकल कारोबार में हिस्सेदारी बिक्री के जरिए मार्च, 2021 तक पूरी तरह कर्जमुक्त बनने की योजना का ऐलान किया गया था. (डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading