RIL और BP में फ्यूल रिटेल को लेकर नया करार, 5 साल में खोलेंगे 5500 पेट्रोल पंप

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने ब्रिटेन की पेट्रोलियम कंपनी BP पीएलसी के साथ नए जॉइंट वेंचर की घोषणा की है.

News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 8:57 PM IST
News18Hindi
Updated: August 6, 2019, 8:57 PM IST
मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने ब्रिटेन की पेट्रोलियम कंपनी BP पीएलसी के साथ नए जॉइंट वेंचर की घोषणा की है. RIL, BP के साथ नया वेंचर बनाने के बाद देश में 5,500 पेट्रोल पंप खोलेगी. कंपनी के प्लान में रिटेल सर्विस स्टेशन नेटवर्क के साथ एविएशन फ्यूल कारोबार भी शामिल है. इससे पहले दोनों कंपनियां 2011 से एकसाथ कारोबार कर रही हैं.

फिलहाल RIL के देशभर में 1400 पेट्रोल पंप
कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि भारत में अगले 20 वर्षों में दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते ईंधन बाजार की उम्मीद है. RIL और बीपी का उपक्रम देश में 1,400 से अधिक साइटों पर आरआईएल के वर्तमान ईंधन रिटेलिंग नेटवर्क को शामिल और निर्माण करेगा, जिसका लक्ष्य अगले 5 वर्षों में 5,500 साइटों तक तेजी से विकास करना है.

इसमें रिलायंस ने हवाई ईंधन कारोबार को भी शामिल किया है. फिलहाल कंपनी देश के 30 एयरपोर्ट पर सुविधा दे रही है. इस करार पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी और बीपी के ग्रुप चीफ एक्जिक्यूटिव बॉब डुडले ने हस्ताक्षर किए.

RIL-BP में फ्यूल रिटेल पर नया JV
मुकेश अंबानी ने कहा कि हम फ्यूल रिटेलिंग सेक्टर के ग्लोबल लीडर्स में से एक, BP के साथ अपनी साझेदारी का विस्तार करने के लिए खुश हैं. यह साझेदारी बीपी और रिलायंस के बीच मजबूत संबंधों का प्रमाण है. भारत में गैस संसाधनों के विकास में हमारी मजबूत भागीदारी अब ईंधन के खुदरा बिक्री और विमानन ईंधन तक फैल गई है. इस परिवर्तनकारी साझेदारी से देशभर में विश्व स्तरीय सेवाओं को बढ़ाने के साथ उपभोक्ताओं के साथ हमारा जुड़ाव और गहरा होगा.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! अब 59 मिनट में मिलेगा होम और ऑटो लोन, जानें क्या है नया प्लान?
Loading...

ज्वॉइंट वेंचर में रिलायंस की 51 फीसदी हिस्सेदारी
नई ज्वॉइंट वेंचर में रिलायंस की 51 फीसदी हिस्सेदारी होगी, जबकि बाकी 49 फीसदी हिस्सेदारी बीपी के पास होगी. उनका संयुक्त उद्यम रिलायंस के मौजूदा भारतीय फ्यूल रिटेल नेटवर्क का स्वामित्व ग्रहण करेगा और अपने विमानन ईंधन कारोबार तक पहुंच बनाएगा.

बीपी भारत का बड़ा निवेशक
बीपी के समूह मुख्य कार्यकारी अधिकारी बॉब डुडले ने कहा कि वर्ष 2020 तक भारत दुनिया के सबसे बड़ा ऊर्जा क्षेत्र का सबसे बड़ा बाजार हो जाएगा. बीपी यहां का एक बड़ा निवेशक है और उन्हें यहां का बाजार आकर्षक, रणनीतिक और अवसरों से भरा है. हम रिलायंस के साथ मिलकर भारत के गैस स्रोत विकसित करने पर काम कर रहे हैं. इससे देश की गैस जरूरत को पूरा करने में मदद कर रहे हैं. हम रिलायंस के साथ मिलकर भारत के उपभोक्ताओं को उच्च गुणवत्ता का ईंधन और आधुनिक सेवाएं उपलब्ध कराएंगे.

उन्होंने कहा, कि 2020 तक नया ज्वॉइंट वेंचर पर काम करना शुरू कर देंगे. साथ ही साथ उन्होंने ये भी कहा है कि केजी डी-6 जो प्रोजेक्ट है वो ट्रैक पर है.

ये भी पढ़ें: एशिया की बड़ी कंपनी जम्मू-कश्मीर में लगाएगी फैक्ट्री!

डिस्क्लेमर: हिंदी न्यूज़ 18 डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.
First published: August 6, 2019, 8:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...