• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • RIL कोविड-19 पीपीई किट के कचरे से बनाएगी उपयोगी प्‍लास्टिक उत्‍पाद, CSIR-NCL से मिलाया हाथ

RIL कोविड-19 पीपीई किट के कचरे से बनाएगी उपयोगी प्‍लास्टिक उत्‍पाद, CSIR-NCL से मिलाया हाथ

देश में मई 2021 के दौरान हर दिन 200 टन कोविड-19 से जुड़ा कचरा निकला.

देश में मई 2021 के दौरान हर दिन 200 टन कोविड-19 से जुड़ा कचरा निकला.

कोरोना वायरस महामारी के फैलने के साथ ही पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (PPE), फेस मास्‍क (Face Mask), ग्‍लव्‍स (Gloves) जैसी सिंगल यूज प्‍लास्टिक प्रोडक्‍ट्स की मांग में कई गुना इजाफा दर्ज किया गया. देश में मई 2021 के दौरान हर दिन 200 टन कोविड-19 से जुड़ा कचरा निकला.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्‍ली. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) और पुणे की कुछ कंपनियां अब कोविड-19 पीपीई किट के कचरे (PPE Waste) से उपयोगी मॉल्‍डेड प्‍लास्टिक प्रोडक्‍ट्स तैयार करेंगी. इसके लिए आरआईएल ने पुणे की सीएसआईआर-नेशनल केमिकल लेबोरेट्री (CSIR-NCL) के साथ हाथ मिलाया है. इस पायलट प्रोजेक्‍ट को पूरे देश में पीपीई किट के कचरे से उपयोगी और सुरक्षित प्रोडक्‍ट्स बनाने के लिए लागू किया जा सकता है. इससे बड़ी मात्रा में पीपीई किट के कचरे का इस्‍तेमाल हो जाएगा और उसके निस्‍तारण की समस्‍या भी खत्‍म हो जाएगी.

    पीपीई वेस्‍ट निस्‍तारण में पैदा होती हैं खतरनाक गैस
    कोरोना वायरस महामारी के फैलने के साथ ही पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (PPE), फेस मास्‍क (Face Mask), ग्‍लव्‍स (Gloves) जैसी सिंगल यूज प्‍लास्टिक प्रोडक्‍ट्स की मांग में कई गुना इजाफा दर्ज किया गया. देश में मई 2021 के दौरान हर दिन 200 टन कोविड-19 से जुड़ा कचरा निकला. खतरनाक पीपीई कचरे का सेंट्रल वेस्‍ट मैनजमेंट फैसिलिटीज (BMWM Facilities) में जलाकर निस्‍तारण किया जा रहा है. पीपीई वेस्‍ट को जलाने में काफी बिजली खर्च होती है. वहीं, इससे नुकसानदायक ग्रीनहाउस गैस (Greenhouse Gases) भी निकलती है.

    ये भी पढ़ें- LIC Housing दे रही सस्‍ते में घर खरीदने का मौका, सबसे कम दर पर मिलेगा 2 करोड़ तक का होम लोन, चेक करें डिटेल्‍स

    RIL will make useful products from waste of Covid 19 PPE kit join hands with CSIR NCL achs

    पीपीई कचरे से उपयोगी प्‍लास्टिक उत्‍पाद तैयार किए जाएंगे.

    पीपीई वेस्‍ट के रिसाइकल से क्‍या होगा फायदा?
    रिलायंस, सीएसआईआर-एनसीएल और दूसरी कंपनियां कोविड-19 प्‍लास्टिक वेस्‍ट के प्रभावी रिसाइकल के लिए बेहतरीन प्रक्रिया विकसित करने के अभियान में जुटी हैं. इस अभियान से जुड़ी सभी कंपनियों का लक्ष्‍य है कि इस कचरे से उपयोगी प्‍लास्टिक उत्‍पाद तैयार किए जा सकें. साथ ही इन सुरक्षित और उपयोगी उत्‍पादों के लिए बाजार तैयार करने की प्रक्रिया भी जारी है. दरअसल, पीपीई प्‍लास्टिक वेस्‍ट को जलाकर नष्‍ट करने से ग्‍लोबल वार्मिंग का खतरा और बढ़ जाएगा. अगर इसका सही इस्‍तेमाल किया जा सके तो पहला इसके जलाने से पैदा होने वाली ग्रीन हाउस गैसों रोका जा सकेगा. दूसरा, वर्जिन प्‍लास्टिक (Virgin Plastics) के इस्‍तेमाल को घटाया जा सकेगा.

    *(डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज