जानें कौन हैं वो शख्स जिसको मिलने वाली है अज़ीम प्रेमजी की Wipro की कमान

आईटी कंपनी विप्रो (Wipro) के मैनेजमेंट में आज बड़ा बदलाव होने जा रहा है. कल से इस शख्स के हाथ में होगी विप्रो की कमान, जानिए इनके बारे में सब कुछ..

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 10:19 AM IST
जानें कौन हैं वो शख्स जिसको मिलने वाली है अज़ीम प्रेमजी की Wipro की कमान
आईटी कंपनी विप्रो (Wipro) के मैनेजमेंट में आज बड़ा बदलाव होने जा रहा है. कल से इस शख्स के हाथ में होगी विप्रो की कमान, जानिए इनके बारे में सब कुछ..
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 10:19 AM IST
आईटी कंपनी विप्रो (Wipro) के मैनेजमेंट में आज बड़ा बदलाव होने जा रहा है. विप्रो (wipro) के एक्जीक्यूटिव चेयरमैन अजीम प्रेमजी (Azim Premji) आज रिटायर होने वाले हैं, जिसके बाद उनके बेटे रिशद प्रेमजी (Rishad Premji) उनका पद संभालेंगे. अब रिशद विप्रो के एक्जीक्यूटिव चेयरमैन का पद संभालेंगे. विप्रो की बोर्ड बैठक में इस पर मुहर लगाई जा चुकी है. कंपनी ने अजीम के बेटे रिशद प्रेमजी को अगले 5 साल के लिए एग्जिक्यूटिव चेयरमैन पर नियुक्त किया है. उनकी नियुक्ति 31 जुलाई प्रभावी होगी. चलिए आपको बताते हैं रिशद प्रेमजी के बारे में, जिन्हें मिलने वाली है विप्रो की कमान...

आइए जानते हैं रिशद प्रेमजी के बारे में...

कौन है रिशद प्रेमजी- सन 2007 में रिशद विप्रो का हिस्सा बने थे. विप्रो में काम शुरू करने से पहले वो बेव कंपनी लंदन में काम करते थे. उन्होंने जीई कैपिटल के साथ भी काम किया है. रिशद प्रेमजी ने हॉवर्ड बिजनेस स्कूल से MBA किया है. साल 2014 में उनको वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने यंग ग्लोबल लीडर का अवार्ड दिया था. रिशद आईटी कंपनियों के संगठन नैस्कॉम (NASSCOM) के चेयरमैन भी रहे हैं.

ये भी पढ़ें: वो सामान जिन्हें बेचकर चीन करता है अरबों डॉलर की कमाई



>> रिशद विप्रो की तरफ से चलाए जा रहे सामाजिक और शिक्षा से जुड़े कामों को भी देखते रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिकरिशद विप्रो में यंग प्रोफेशनल्स को ज्यादा इनसेंटिव देने के पक्ष में रहते हैं. वो ऐसा कर कंपनी के साथ ज्यादा बेहतर लोगों को जोड़े रखना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें- जल्द LIC में निवेश करना और ज्यादा फायदेमंद हो जाएगा!
Loading...

>> रिशद के पिता अजीम प्रेमजी का जन्म 29 दिसंबर, 1945 को हुआ था. उनके दादा भारत के जाने-माने चावल व्यापारी थे. प्रेमजी का बचपन मुंबई में बीता.

>> अजीम प्रेमजी के पिता मो. हुसैन हशम प्रेमजी भी कारोबारी थे. अजीम की मां गुल बानो ने मेडिकल डिग्री ली थी, लेकिन वह प्रैक्टिस नहीं करती थीं. हशम प्रेमजी ने महाराष्ट्र के अमलनेर में फैक्टरी लगाई थी. वहां वनस्पति तेल, साबुन आदि का प्रॉडक्शन होता था.

>> प्रेमजी का परिवार गुजरात से नाता रखता है. पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना भी गुजराती मुस्लिम थे. जब भारत का विभाजन हुआ, तो जिन्ना ने हशम प्रेमजी को पाकिस्तान में बसने के लिए बुलाया था. जिन्ना ने उन्हें पाकिस्तान का वित्त मंत्री बनाने की पेशकश की थी. लेकिन हशम प्रेमजी ने अपनी जन्मभूमि भारत में ही रहना पसंद किया.
First published: July 30, 2019, 9:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...