• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • इसलिए आपका टिकट चेक नहीं कर सकती रेलवे पुलिस!

इसलिए आपका टिकट चेक नहीं कर सकती रेलवे पुलिस!

रेलवे में सिर्फ टीटीई ही चेक कर सकता है टिकट

रेलवे में सिर्फ टीटीई ही चेक कर सकता है टिकट

टिकट चेक करने का अधिकार रेलवे पुलिस को कभी नहीं था. इसलिए यदि आरपीएफ का कोई जवान टिकट चेक करता है तो वह गलत है, इसका अधिकार सिर्फ टीटीई को है

  • Share this:
    क्या आपको रेलवे टिकट चेकिंग के उन प्रावधानों की जानकारी है जिसके तहत आपका टिकट सिर्फ पुलिस नहीं चेक कर सकती. रेलवे पुलिस की मनमानी से यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है. आरपीएफ को चलती ट्रेन या फिर प्‍लेटफार्म पर टिकट चेक करने का अधिकार नहीं है. यह काम केवल टीटीई ही करेगा. अवैध उगाही और धमकाने की शिकायतों को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने टिकट चेकिंग को लेकर पहले एक निर्देश जारी किया था लेकिन उसका पालन कम ही होता है, क्योंकि आप इसे जानते ही नहीं. जानेंगे तो विरोध कर पाएंगे.

    बेटिकट यात्रियों को जुर्माना करने की पावर सिर्फ अधिकृत टिकट चेकिंग स्‍टाफ को ही है. आमतौर पर ट्रेनों में और प्‍लेटफार्म पर रेलवे पुलिस टिकट चेक करके भोले-भाले लोगों से उगाही करती है. पूर्वांचल के रूट पर चलने वाली गाड़ियों के जनरल बोगी में यह आए दिन का खेल है. जमकर उगाही चलती है और रेलवे प्रशासन उनका कुछ नहीं कर पाता.

    लेकिन अब आपको उनकी धमकी पर डरने और पैसे देने की जरूरत नहीं है. यदि टिकट नहीं बना है या फिर उसमें कोई दिक्‍कत है तो टीटीई से ही बात करें. आरपीएफ वाला उसमें कुछ नहीं करेगा. कोई पुलिसकर्मी यदि आपका टिकट चेक करने की जिद करे या धमकाए तो उसके वरिष्ठ अधिकारी से इसकी शिकायत कर सकते हैं.

    rpf, आरपीएफ, train ticket checking, ट्रेन टिकट चेकिंग, TTE, टीटीई, indian railway, भारतीय रेल, railway ticket availability, रेलवे टिकट उपलब्धता, ट्रेन टिकट की जांच, Ministry of Railways, Railway Protection Force, रेलवे सुरक्षा बल़, railway police, रेलवे पुलिस बिहार, पूर्वांचल की ओर जाने वाली ट्रेनों के लोकल डिब्बों में ऐसे नजारे आम हैं (file photo)

    रेलवे सिक्‍योरिटी से जुड़े एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा है कि अगर कोई पुलिसकर्मी टिकट चेकिंग या जुर्माना वसूलते पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी. टिकट चेक करने का अधिकार रेलवे पुलिस को कभी नहीं था. इसलिए यदि कोई वर्दीवाला टिकट चेक करता है तो वह गलत है. इसे बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा.

     रेलवे के बड़े अधिकारियों को यदि अवैध टिकट चेकिंग की जानकारी मिलती है तो वे आरोपी पर सस्‍पेंड करने तक की कार्रवाई कर देते हैं. इसलिए अपने अधिकारों को लेकर सचेत रहिए. रेलवे अधिकारी ने बताया कि मजिस्‍ट्रेट छापे जैसी कार्रवाई के दौरान ही रेलवे पुलिस सिर्फ टिकट चेक करने में सहायता कर सकती है. वरना इसके लिए सिर्फ कॅमर्शियल स्‍टाफ अधिकृत है.

    ये भी पढ़ें:

    केंद्र सरकार की नौकरियों में कितनी हो गई ओबीसी की भागीदारी?

    मायावती ने नेता नहीं कलेक्शन एजेंट रखे हुए हैं: राज बहादुर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज