अपना शहर चुनें

States

सचिन तेंदुलकर ने अनअकैडमी में किया निवेश, कंपनी के ब्रांड एंबेसडर भी बने

बेंगलुरु स्थित Unacademy के पास 49,000 से अधिक पंजीकृत शिक्षकों और 4 करोड़ से अधिक छात्रों का नेटवर्क है.
बेंगलुरु स्थित Unacademy के पास 49,000 से अधिक पंजीकृत शिक्षकों और 4 करोड़ से अधिक छात्रों का नेटवर्क है.

पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने ऑनलाइन शिक्षा देने वाली कंपनी अनअकैडमी में रणनीतिक निवेश किया है. सचिन अनअकैडमी के लिए लाइव इंटरैक्टिव क्लास में मोटिवेशन स्पीकर बनेंगे, जिनसे छात्र बिना किसी शुल्क के जुड़ सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 4:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने ऑनलाइन शिक्षा देने वाली कंपनी अनअकैडमी में रणनीतिक निवेश किया है. सचिन अनअकैडमी के लिए लाइव इंटरैक्टिव कक्षाओं की मेजबानी करेंगे. इनमें छात्र बिना किसी शुल्क के जुड़ सकेंगे. साथ ही सचिन इसके ब्रांड एंबेसडर भी होंगे.
अनअकैडमी के सह-संस्थापक व सीईओ गौरव मुंजाल ने मंगलवार को यह जानकारी दी है. इस मौके पर मुंजाल ने कहा कि “इस साझेदारी के जरिए, सचिन हमारे छात्रों के साथ अपने जीवन के सबक साझा करेंगे और उन्हें प्रशिक्षित करके सीखने का नया अनुभव पैदा करेंगे.“ मुंजाल ने बताया कि कंपनी सचिन के साथ कंटेंट बेस्ड साझेदारी विकसित करने पर काम कर रही है, जिसके बारे में आने वाले महीनों में पता चलेगा.
यह भी पढ़ें :44 स्टार्टअप्स बनें यूनिकॉर्न, 14 लाख नौकरियों के साथ 106 बिलियन डॉलर की संपत्ति भी बढ़ाई

सचिन लाइव इंटरएक्टिव क्लास के जरिए देंगे क्रिकेट की कोचिंग
कंपनी ने कहा कि लाइव इंटरएक्टिव कक्षाओं की एक सीरिज के माध्यम से छात्रों को कोचिंग दी जाएगी और इसमें तेंदुलकर द्वारा सलाह दी जाएगी. इसे हर कोई Unacademy प्लेटफॉर्म पर मुफ्त में प्राप्त कर सकता है. साझेदारी के एक हिस्से के रूप में, Unacademy सचिन के साथ खेल सीखने के लिए अलग प्लेटफार्म बनाएगा, जिसका अगले कुछ महीनों में इनोग्रेशन किया जाएगा.
यह भी पढ़ें : सरकार यह उपाय कर ले तो आधी कीमत में महज 2 महीनों में 50 करोड़ लोगों को लग सकता है कोरोना वैक्सीन, अजीम प्रेमजी ने बताया तरीका



लर्निंग प्रोसेस है अहम, इसलिए की अनअकैडमी के साथ साझेदारी
इस साझेदारी पर तेंदुलकर ने कहा, “मैंने हमेशा खेल की शक्ति को एक ऐसे माध्यम के रूप में माना है जो न केवल लोगों को एकजुट करता है, बल्कि अमूल्य सबक भी देता है. यह लोगों को उनके जीवन के किसी भी क्षेत्र में मदद कर सकता है. Unacademy ने हमेशा भारत के किसी भी हिस्से से सीखने को सुलभ बनाकर भौगोलिक सीमाओं को बढ़ाया है. यह मेरी सोच और मिशन से मेल खाती है. इसलिए हमने एक सीखने का अनूठा अनुभव बनाने के लिए एक साथ आने का फैसला किया है. “
यह भी पढ़ें : नौकरी की बात : दस साल में 100 करोड़ नौकरियों की स्किल बदल जाएंगी, इसलिए सीखें नई स्किल और करें रि-स्किलिंग

50 हजार से ज्यादा शिक्षक और 4 करोड़ छात्रों का नेटवर्क
बेंगलुरु स्थित Unacademy के पास 49,000 से अधिक पंजीकृत शिक्षकों और 4 करोड़ से अधिक छात्रों का नेटवर्क है. यह भारत के 5,000 शहरों में 14 भारतीय भाषाओं में छात्रों तक पहुंचता है. कंपनी को टाइगर ग्लोबल, ड्रैगोनियर इन्वेस्टमेंट ग्रुप, सॉफ्टबैंक विजन फंड 2, फेसबुक, जनरल अटलांटिक, सिकोइया इंडिया, एसएआईएफ पार्टनर्स, नेक्सस वेंचर पार्टनर्स, स्टीड्यूव कैपिटल और ब्ल्यू वेंचर्स जैसे प्रमुख निवेशकों का समर्थन प्राप्त है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज