लाइव टीवी
Elec-widget

खुशखबरी! अगले साल दुनियाभर में सबसे अधिक मिलेगी भारतीयों को सैलरी

पीटीआई
Updated: December 2, 2019, 4:25 PM IST
खुशखबरी! अगले साल दुनियाभर में सबसे अधिक मिलेगी भारतीयों को सैलरी
अगले 9.2 फीसदी बढ़ेगी भारतीय कर्मचारियों की सैलरी.

कॉर्न फैरी ( Korn Ferry) ग्लोबल सैलरी फोरकास्ट ने अपने अनुमान में कहा है कि अगले साल भारत में कर्मचारियों (Employees in India) की सैलरी सबसे अधिक बढ़ेगी. हालांकि, बढ़ती महंगाई की वजह से इसका पूरा लाभ नहीं मिल सकेगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. एक हालिया अनुमान से पता चला है कि अगले साल भारत में कर्मचारियों (Employees in India) की सैलरी (Salary Hike) में 9.2 फीसदी तक का इजाफा हो सकता है. सभी एशियाई देशों के मुकाबले भारत में यह बढ़ोतरी सबसे अधिक है. हालांकि, बढ़ती महंगाई इस खुशी को कम करने का काम कर सकती है. कॉर्न फैरी ग्लोबल ने अपने सैलरी फोरकास्ट में यह बात कही है.

इस सर्वे में कहा गया है कि अगले साल सैलरी में 9.2 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद भारतीय कर्मचारियों को वास्तविक तौर पर 5 फीसदी की ही बढ़ोतरी का लाभ मिल सकेगा. दरअसल, इस बढ़ोतरी में महंगाई दर अडजस्ट करने के बाद ही वास्तविक बढ़ोतरी का लाभ मिल सकेगा.

ये भी पढ़ें: इन चार देशों में कस्टम खुफिया अधिकारी नियुक्त करेगी सरकार, जानें क्या है वजह?

सभी एशियाई देशों के मुकाबले भारत में सबसे अधिक बढ़ोतरी

कॉन फैरी ग्लोबल सैलरी फोरकास्ट के मुताबिक, अगले साल भारत में कर्मचारियों की सैलरी औसतन 9.2 फीसदी तक बढ़ सकती है, लेकिन बढ़ते महंगाई के हिसाब से देखें तो यह बढ़ोतरी करीब आधी ही रह जाएगी. साथ ही इस रिपोर्ट में कहा गया है कि सभी ​एशियाई देशों में भारत सर्वाधिक वेतन वृ​द्धि वाले देश के रूप में उभरा है.

वैश्विक स्तर पर केवल 2.1 फीसदी का ही फायदा
इस अनुमान के मुताबिक, वैश्विक स्तर पर 2020 के दौरान 4.9 फीसदी सैलरी में इजाफा होगा, जबकि 2.8 फीसदी की अनुमानित महंगाई दर के बाद वास्तविक वेतन वृद्धि 2.1 फीसदी रह जाएगी. एशिया की बात करें तो इस दौरान सर्वाधिक सैलरी ग्रोथ 5.3 फीसदी रहने का अनुमान है.
Loading...

ये भी पढ़ें: नहीं मिलेगी पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से राहत! वित्त मंत्री ने कही ये बात

कॉर्न फेरी इंडिया के असोसिएट क्लाइंट पार्टनर रूपक चौधरी ने कहा, 'भारत में 2020 में औसत सैलरी ग्रोथ 9.2 फीसदी रहने का अनुमान है, और लो इन्फ्लेशन के साथ असल सैलरी ग्रोथ 5.1 फीसदी रहेगी, जो विश्व में सबसे ज्यादा सैलरी ग्रोथ में शामिल होगी.'

कितनी बढ़ोगी अन्य एशियाई देशों की सैलरी
अन्य एशियाई देशों की बात करें तो इन्डोनेशिया के लिए यह सैलरी ग्रोथ का औसत 8.1 फीसदी, मलयेशिया, चीन और कोरिया के लिए क्रमशः 5%. 6% और 4.1 फीसदी रहने का अनुमान है. जापान और में यह दर सबसे कम(2%) रहने रका अनुमान है, जबकि 3.9% के औसत के साथ ताइवान का नंबर जापान के बाद है.

ये भी पढ़ें: पैसा कमाने का एक और मौका, खुला गया उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक का IPO

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 4:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...