लाइव टीवी

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास को हर महीने मिलती है कितनी सैलरी, यहां जानिए

News18Hindi
Updated: January 14, 2020, 7:33 PM IST
RBI गवर्नर शक्तिकांत दास को हर महीने मिलती है कितनी सैलरी, यहां जानिए
RBI गवर्नर, शक्तिकांत दास

भारत के नोट पर हस्ताक्षर करने वाले RBI गवर्नर की सैलरी के बारे में क्या आप जानते हैं. अगर नहीं तो आज हम आपको RBI गवर्नर और डिप्टी गवर्नर की सैलरी से जुड़ी जानकारी दे रहे हैं...

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2020, 7:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के नोट पर हस्ताक्षर करने वाले RBI गवर्नर की सैलरी के बारे में क्या आप जानते हैं. अगर नहीं तो आपके बता दें कि उनको हर महीने करीब 2.87 लाख रुपये की सैलरी मिलती है. जी हां, मौजूदा RBI गवर्नर शक्तिकांत दास की इस सैलरी में डीए (Dearness Allowance) यानी महंगाई भत्ते के साथ-साथ कई अन्य पेमेंट भी शामिल है. आपको बता दें कि माइकल पात्रा (Michael Debabrata Patra) को रिजर्व बैंक का नया डिप्टी गवर्नर (RBI Deputy Governor) नियुक्त किया गया है. विरल आचार्य के इस्तीफा देने के बाद से ये पद खाली पड़ा था. माइकल पात्रा अगले 3 साल तक इस पद पर रहेंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,  RBI गवर्नर और डिप्टी गवर्नर की ग्रॉस सैलरी में खास अंतर नहीं होता है. डिप्टी गवर्नर के मुकाबले RBI गवर्नर को महज 31,500 रुपये ज्यादा मिलते हैं. आपको बता दें कि गवर्नर के अलावा 4 डिप्टी गवर्नर होते हैं.

माइकल पात्रा की नियुक्ति के बाद अब एन एस विश्वनाथन, बी पी कानूगो और एम के जैन को मिलाकर कुल चार डिप्टी गवर्नर है. विश्वनाथन को सरकार ने एक साल का एक्सटेंशन दिया है. इन सभी की सैलरी एक समान होती है. इन्हें 2.55 लाख रुपये प्रति महीना मिलते हैं.

RBI के नए डिप्टी गवर्नर माइकल पात्रा


RBI की ओर से जारी जानकारी के मुताबिक, 30 जून 2019 से 31 दिसंबर 2019 तक किसी की भी ग्रॉस सैलरी में कोई चेंज नहीं आया है.

तीन साल पहले रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल और अनके डिप्टी गवर्नर की सैलरी को सरकार ने दोगुनी से भी अधिक कर दिया था. इनकी बेसिक सैलरी क्रमश: 2.50 लाख और 2.25 लाख रुपये हो गई.

जानिए RBI गवर्नर के मुकाबले प्राइवेट बैंकों के अधिकारियों की सैलरी?आपको यह जानकर हैरानी होगी की RBI गवर्नर की सैलरी से कहीं अधिक देश के बड़े प्राइवेट बैंकों के एमडी और सीईओ की सैलरी होती है.

HDFC बैंक के एमडी को मौजूदा समय में 90 लाख रुपये प्रति महीना की ग्रॉस सैलरी मिलती है. इसमें ईसॉप्स और अन्य इंसेंटिव शामिल नहीं है. वहीं, देश के सबसे बड़े बैंक SBI के चेयरमैन को 2.46 लाख रुपये प्रति महीना मिलता है.

दुनिया के बड़े बैंकों के अधिकारियों के मुकाबले RBI गवर्नर की सैलरी

दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका के सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व के चेयरमैन सालाना 203,250 डॉलर (करीब 1.46 करोड़ रुपये) मिलते हैं. वहीं, बैंक ऑफ अमेरिका के सीईओ के 1.5 मिलियन डॉलर (करीब 10.8 करोड़ रुपये) सालाना मिलते हैं. इस लिहाज से RBI गवर्नर की सैलरी उनसे 10 गुना कम है.

ये भी पढ़ें-रोजाना 28 रु खर्च कर मिलेंगे 6 फायदे, बड़े काम की है LIC की ये बचत बीमा योजना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 7:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर