US का सामना करने के लिए पाकिस्तान ने बनाया 'करेंसी प्लान', ये देश करेगा मदद!

हामिद मीर
हामिद मीर

डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये की गिरावट को रोकने के लिए पाक ने सऊदी अरब से सौदा किया है. इसके तहत सऊदी अरब पाकिस्तान के फॉरेन रिजर्व में बड़ी मात्रा में डॉलर डालेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 14, 2018, 7:34 PM IST
  • Share this:
पाकिस्तान इस वक्त आर्थिक संकट से जूझ रहा है. देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार घटता जा रहा है. देश की नई सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती अर्थव्यवस्था को संभालने की है. ऐसा माना जा रहा था कि अपनी खस्ताहाल अर्थव्यवस्था में सुधार लाने के लिए पाकिस्तान को आईएमएफ से कर्ज लेना होगा. हालांकि पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर ने इस मामले में बड़ा दावा किया है.

एक टीवी प्रोग्राम के अन्त में हामिद मीर ने बताया कि पाकिस्तान आईएमएफ से मदद नहीं लेगा. मीर ने कहा कि डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये की गिरावट को रोकने के लिए पाक ने सऊदी अरब से सौदा किया है. इसके तहत सऊदी अरब पाकिस्तान के फॉरेन रिजर्व में बड़ी मात्रा में डॉलर डालेगा. इससे पाकिस्तानी रुपये को सहारा मिलेगा और उसमें डॉलर के मुकाबले गिरावट में कमी आएगी. हालांकि इसमें एक बड़ा पेंच यह भी है कि सऊदी की तरफ से जमा डॉलर का पाकिस्तान इस्तेमाल नहीं कर पाएगा.


आपको बता दें कि पाकिस्तान को अपनी अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए तत्काल करीब 9 अरब डॉलर के कर्ज की जरूरत है. 1980 के बाद से पाकिस्तान 14 बार आईएमएफ से कर्ज ले चुका है. ऐसे में पाकिस्तान ऐसी संभावनाएं तलाश रहा है ताकि उसे आईएमएफ की शरण में न जाना पड़े. अब सऊदी से पाकिस्तान को कितनी सहायता मिल पाती है यह देखने वाली बात होगी.



ये भी पढ़ें: आर्थिक संकट में फंसे पाकिस्तान में बैन हो सकता है लक्जरी कारों और स्मार्टफोन्स का इम्पोर्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज