अपना शहर चुनें

States

Adani Wilmar ने कहा- सौरभ गांगुली ही रहेंगे फॉर्च्‍यून के ब्रांड एंबेस्‍डर, विज्ञापन पर लगाई है अस्‍थायी रोक

अडानी विल्‍मर ने साफ किया है कि बीसीसीआई के अध्‍यक्ष सौरभ गांगुली ही उनके ब्रांड एंबेस्‍डर बने रहेंगे.
अडानी विल्‍मर ने साफ किया है कि बीसीसीआई के अध्‍यक्ष सौरभ गांगुली ही उनके ब्रांड एंबेस्‍डर बने रहेंगे.

अडानी विल्‍मर (Adani Wilmar) के डिप्‍टी चीफ एग्जीक्यूटिव अंग्शु मलिक ने कहा कि सौरभ गांगुली (Saurav Ganguly) हमारे ब्रांड एंबेसेडर बने रहेंगे. हमने अपने टीवी विज्ञापनों (TV Ads) पर अस्थायी रोक लगाई है. हम फिर उनके साथ काम करेंगे. गांगुली की तबीयत पूरी तरह ठीक होने के बाद उनसे चर्चा करके विज्ञापन में बदलाव किए जा सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2021, 5:47 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उद्योगपति गौतम अडानी की कंपनी अडानी विल्‍मर (Adani Wilmar) ने साफ किया है कि बीसीसीआई के अध्‍यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान सौरभ गांगुली (Saurav Ganguly) ही कंपनी के ब्रांड एंबेस्‍डर रहेंगे. साथ ही बताया कि फॉर्च्‍यून राइस ब्रैन कुकिंग ऑयल (Fortune Rice Bran Cooking Oil) के विज्ञापनों पर अस्‍थायी रोक लगाई गई है. बता दें कि इन विज्ञापनों में सौरभ गांगुली दिखाई देते थे. गांगुली को शनिवार को दिल का दौरा पड़ा. इसके बाद सोशल मीडिया पर कंपनी के विज्ञापनों का मजाक उड़ाया जा रहा था, जिनमें सौरभ गांगुली फॉर्च्‍यून कुकिंग ऑयल के इस्‍तेमाल से दिल की सुरक्षा का दावा करते नजर आते रहे हैं. इसके बाद कंपनी ने रविवार को सभी विज्ञापनों पर अस्‍थायी रोक लगा दी थी.

कंपनी ने कहा, सौरभ गांगुली से अलग होने का सवाल ही नहीं
अडानी विल्‍मर के डिप्‍टी चीफ एग्जीक्यूटिव अंग्शु मलिक ने कहा कि सौरभ गांगुली हमारे ब्रांड एंबेसेडर बने रहेंगे. हमने अपने टीवी विज्ञापनों (TV Ads) पर अस्थायी रोक लगाई है. हम फिर उनके साथ काम करेंगे. उनसे अलग होने का सवाल ही नहीं उठता है. एक खिलाड़ी होने के नाते गांगुली ने फिट रहने के लिए काफी मेहनत की है. हम जानते हैं कि इस टेस्ट में भी वह मजबूत होकर उभरेंगे. उन्‍होंने कहा कि सौरभ गांगुली की तबीयत पूरी तरह ठीक होने के बाद हम उनसे चर्चा करके विज्ञापन में कुछ बदलाव कर सकते हैं. मलिक ने कहा कि गांगुली हमारे फॉर्च्यून राइस ब्रैन कुकिंग ऑयल के सबसे फिट ब्रांड एंबेस्‍डर हैं.

ये भी पढ़ें- Future Group के किशोर बियानी ने कहा, RIL के साथ रिटेल एसेट्स के सौदे की Amazon को थी पूरी जानकारी
जनवरी 2020 में गांगुली को बनाया गया था ब्रांड एंबेस्‍डर


मलिक ने कहा कि हमारा कुकिंग ऑयल कोई दवा नहीं है. हार्ट की बीमारी कई कारणों से होती है. इनमें खानपान के साथ ही आनुवांशिक समस्याएं भी शामिल हैं. ब्रांड की क्रिएटिव एजेंसी Ogilvy & Mather इस मामले को देख रही है. हम नए कैंपेन पर काम कर रहे हैं. बता दें कि गांगुली को जनवरी 2020 में फॉर्च्‍यून राइस ब्रैन कुकिंग ऑयल का ब्रांड एंबेस्‍डर बनाया गया था. दूसरे तरह के खाद्य तेल, आटा, बेसन की रेंज बेचने वाली फॉर्च्‍यून इस साल बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार के साथ बतौर ब्रांड एंबेस्‍डर री-ब्रैंडिंग के लिए काम कर रही है. बता दें कि गांगुली की एंजियोप्लास्टी की गई थी. अब उनकी हालत स्थिर है और उन्हें जल्द अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी. कंपनी सोयाबीन, सरसों, राइस ब्रैन और मूंगफली का तेल बेचने के अलावा अलाइफ (Alife) ब्रांड से साबुन व सैनिटाइजर भी बेचती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज