इन बैंकों में आपका अकाउंट है तो पीएफ से नहीं निकाल पाएंगे रकम, इस तरह तुरंत करें खाते को अपडेट

बैंक खाता अपडेट न हो पाए तो EPF Grievance पर शिकायत कर सकते हैं.

बैंकों के मर्जर की वजह से आईएफएससी कोड (IFSC Code) बदल गए हैं. इसलिए पीएफ अकाउंट (Provident Fund Account) में यह जानकारी अपडेट करनी होगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. बैंकों (Bank) के मर्जर की वजह से कई बदलाव हुए हैं. जिन बैंकों का मर्जर हुआ है, उनके अब आईएफएससी कोड (IFSC Code) बदल गए हैं. इसे देखते हुए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन यानी ईपीएफओ (EPFO) ने सभी पीएफ अकाउंट धारकों (Provident Fund Account) को अपने खाते को अपडेट करने के निर्देश जारी किए हैं.
    निजी और सरकारी उपक्रमों में काम कर रहे हैं कर्मचारियों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए ईपीएफओ प्रोविडेंट फंड की कटौती करता है. कर्मचारी आकस्मिक जरूरतों, बेरोजगार होने या फिर रिटायरमेंट पर इसके पैसे निकाल सकता है. यह सभी काम ईपीएफओ ने ऑनलाइन कर दिए हैं. लेकिन बैंकों के आईएफएससी कोड बदल जाने की वजह से ईपीएफओ में ऑनलाइन क्लेम जमा नहीं हो पा रहे थे. लिहाजा, ईपीएफओ अब कर्मचारियों से उनके खातों को अपडेट करने के लिए कह रहा है.
    यह भी पढ़ें : पीएफ अकाउंट को आधार से लिंक कराने में हो रही है दिक्कत तो पहले करें यह काम, जानें पूरी प्रोसेस
    इन बैंकों के खाताधारकों को करना होगा अकाउंट अपडेट
    ईपीएफओ द्वारा जारी सूचना के मुताबिक आंध्र बैंक(Andhra Bank), सिंडिकेट बैंक(Syndicate Bank), ऑरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (Oriental Bank of Commerce), इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank), यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank of India), कॉर्पाेरेशन बैंक (Corporation Bank) का आईएफएससी कोड (IFSC Code) अमान्य हो गया है. यदि पीएफ अकाउंट में इन बैंकों के खाते लिंक हैं तो मेंबर ऑनलाइन क्लेम नहीं कर सकता है. ऑनलाइन क्लेम करने के लिए उसे पीएफ अकाउंट में बैंक डिटेल को अपडेट करना होगा.
    यह भी पढ़ें :  इनकम टैक्स अलर्ट : फटाफट कर लें यह काम, नहीं तो रूक जाएगी आपकी सैलरी

    बैंक अकाउंट अपडेट करने के लिए यह प्रोसेस अपनाएं
    सबसे पहले EPFO के यूनिफाइड मेंबर पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर जाएं. यहां UAN व पासवर्ड डालकर लॉग इन करें. अब ‘मैनेज’ टैब पर क्लिक करें. आपके सामने एक ड्रॉप डाउन मेन्यू आएगा. इस मेन्यू में KYC सिलेक्ट करें. यहां अापको अपना बैंक अकाउंट नंबर दिखेगा. इस पर क्लिक कर नए IFSC भरें और सेव करें. इस जानकारी के एंप्लॉयर द्वारा अप्रूव होने के बाद आपकी अपडेटेड बैंक डिटेल्स अप्रूव्ड KYC सेक्शन में दिखने लगेंगी.
    यह भी पढ़ें :  इनकम टैक्स अलर्ट : फटाफट कर लें यह काम, नहीं तो रूक जाएगी आपकी सैलरी

    अगर एंप्लॉयर अप्रूव न करें तो यह प्रोसेस करें
    अगर आपका एंप्लॉयर बैंक ​डिटेल्स अपडेशन रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट नहीं दे रहा है तो सबसे पहले आप कंपनी के एचआर डिपार्टमेंट या एडमिनिस्ट्रेशन से इस बारे में बात ​करें. अगर फिर भी डिटेल्स अप्रूव होने में ज्यादा वक्त लग रहा है तो उच्च अधिकारियों से संपर्क करें. अगर इसके बावजूद कंपनी की ओर से कोई कदम नहीं उठाया जा रहा तो फिर EPF Grievance पर शिकायत करें.
    यह भी पढ़ें : कच्चे तेल में ऐसा क्या हुआ जो मनी मैनेजर्स भी जमकर लगा रहे लगे दांव, जानें सबकुछ 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.