Home /News /business /

savings and investments avoid these 5 mistakes while planning for furute of your child kcnd

Investment Tips: बच्चों के लिए कर रहे हैं निवेश तो इन चार गलतियों से बचें, आसानी से कटेगी लाइफ

निवेश और बचत जितना जल्दी शुरू किए जाएं, उतना अच्छा है. बच्चों के लिए निवेश या बचत के मामले में उनके जन्म से लेकर कॉलेज जाने की उम्र आने तक आपके हाथ में बहुत समय होता है.

निवेश और बचत जितना जल्दी शुरू किए जाएं, उतना अच्छा है. बच्चों के लिए निवेश या बचत के मामले में उनके जन्म से लेकर कॉलेज जाने की उम्र आने तक आपके हाथ में बहुत समय होता है.

Investment For Child’s Future: अगर आप अपने बच्चों का भविष्य सुरक्षित करना चाहते हैं तो इसके लिए जल्द निवेश शुरू करना चाहिए. निवेश के दौरान महंगाई, खर्च, बच्चों की पढ़ाई खर्च आदि का भी ध्यान रखना चाहिए. यहां सही वक्त पर सही फैसले ही माता-पिता को बच्चों के लिए निर्धारित किए गए अपने लक्ष्य को पूरा करने में मदद करेंगे.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. अगर आप अपने बच्चों का भविष्य सुरक्षित करना चाहते हैं तो इसके लिए जल्द निवेश शुरू करना चाहिए. निवेश के दौरान महंगाई, खर्च, बच्चों की पढ़ाई खर्च आदि का भी ध्यान रखना चाहिए. यहां सही वक्त पर सही फैसले ही माता-पिता को बच्चों के लिए निर्धारित किए गए अपने लक्ष्य को पूरा करने में मदद करेंगे.

दरअसल, हर माता-पिता अपने बच्चों को एक बेहतर कल देना चाहते हैं. बच्चों के फ्यूचर (Child’s Future) को सिक्योर बनाने के लिए वे हर संभव कोशिश करते हैं. वित्तीय सुरक्षा के लिए निवेश और बचत भी करते हैं, लेकिन इसमें कुछ गलतियों से बचना चाहिए. इन गलतियों से बचकर निवेश करने पर आपको बच्चे की लाइफ आसान हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- Big Gift: 1 करोड़ लाभार्थियों की पेंशन राशि बढ़ाने की तैयारी, हर महीने 1500 रुपये देने की योजना

देरी से न करें निवेश और बचत की शुरुआत
निवेश और बचत जितना जल्दी शुरू किए जाएं, उतना अच्छा है. बच्चों के लिए निवेश या बचत के मामले में उनके जन्म से लेकर कॉलेज जाने की उम्र आने तक आपके हाथ में बहुत समय होता है. इसलिए इतनी लम्बी समय सीमा का लाभ उठाते हुए जितनी जल्दी हो सके, उतनी जल्दी निवेश या बचत (Investment and Savings) करना शुरू कर देना चाहिए. इससे आप वित्तीय दबाव से बचे रहेंगे.

ये भी पढ़ें- PM Kisan : इस दस्‍तावेज के बिना नहीं मिलेगी पीएम किसान की 11वीं किस्‍त, जानें कब खाते में आएंगे 2,000 रुपये

शिक्षा की भविष्य की लागत का गलत अनुमान
मौजूदा दौर में शिक्षा की लागत काफी बढ़ गई है. प्रभावी रूप से भारत के भीतर एक अच्छे प्रोफेशनल कोर्स की लागत लगभग 7 लाख रुपये या उससे अधिक होगी. अगर आप बच्चों को विदेश में पढ़ाना चाहते हैं तो इसकी कीमत लगभग 10 गुना होने की संभावना है. इसलिए निवेश इस बात के अनुरूप होना चाहिए कि आप बच्चे के लिए विदेश में शिक्षा की ओर देख रहे हैं या फिर देश में ही शिक्षा की ओर देख रहे हैं.

महंगाई पर नजर नहीं रखना
उच्च शिक्षा के लिए फंड एक महत्वपूर्ण वित्तीय लक्ष्य है. लेकिन ज्यादातर निवेशकों को लक्ष्य के रूप में रैंडम राउंड फिगर चुनने की आदत होती है. लेकिन महंगाई को भी ध्यान में रखना चाहिए. इसलिए महंगाई सूचकांक की लागत से भी एक अंदाज लें. आप जिनता फंड जुटाना चाहते हैं, वह महंगाई और शिक्षा की भविष्य की लागत के हिसाब से होना चाहिए.

निवेश के लिए गलत इंस्ट्रूमेंट्स का चयन
अपने वित्तीय लक्ष्यों के अनुरूप निवेश करना महत्वपूर्ण है. इसका अर्थ है ऐसे इंस्ट्रूमेंट्स का चुनाव करना, जो आपके पैसे को सही गति से बढ़ाएं. इसके अलावा यह भी ध्यान रखना है कि केवल एक विकल्प के जरिये ही निवेश या बचत न की जाए. पोर्टफोलियो में डायवर्सिफिकेशन होना जरूरी है ताकि अगर किसी एक निवेश/बचत इंस्ट्रूमेंट से लो रिटर्न हासिल भी हो तो किसी अन्य इंस्ट्रूमेंट का उच्च रिटर्न उसकी भरपाई कर दे.

Tags: Investment, Personal finance, Saving

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर