जरूरी खबर! आप भी हैं SBI ग्राहक तो जल्द निपटा लें अपना काम, हड़ताल की वजह से कामकाज पर पड़ेगा असर

SBI ने 42 करोड़ ग्राहकों को अलर्ट किया

SBI ने 42 करोड़ ग्राहकों को अलर्ट किया

देश के सरकारी और ग्रामीण बैंकों की हड़ताल 15 और 16 मार्च को है. 2 दिन की देशव्यापी बैंक हड़ताल (bank strike) के कारण भारतीय स्टेट बैंक (SBI- State Bank of India) का कामकाज 15 और 16 मार्च को प्रभावित होने की संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 11, 2021, 9:18 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: देश के सरकारी और ग्रामीण बैंकों की हड़ताल 15 और 16 मार्च को है. 2 दिन की देशव्यापी बैंक हड़ताल (bank strike) के कारण भारतीय स्टेट बैंक (SBI- State Bank of India) का कामकाज 15 और 16 मार्च को प्रभावित होने की संभावना है. सरकारी बैंकों के निजीकरण करने के फैसले के विरोध में इस हड़ताल का ऐलान किया गया है. बता दें इस साल बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दो सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSBs) के निजीकरण का ऐलान किया था.

क्या कहा SBI ने?

10 मार्च को एक एक्सचेंज फाइलिंग में, एसबीआई ने कहा, ... हमें इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (आईबीए) द्वारा सलाह दी गई है कि यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ... ने 15 और 16 मार्च 2021 को बैंक कर्मचारियों द्वारा अखिल भारतीय हड़ताल का ऐलान किया गया है.

यह भी पढ़ें: 7th Pay Commission: खुशखबरी! 1 अप्रैल से सरकारी कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी, जानें कितना होगा इजाफा
कामकाज पर दिख सकता है असर

इस रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि सभी बैंक ने फिलहाल अपनी शाखाओं पर कामकाज करने के लिए कई तरह की व्यवस्था बना रखी है, लेकिन इसके बाद भी संभावना जताई जा रही है कि बैंकिग कामकाज पर असर देखने को मिल सकता है. यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के बैनर तले 9 यूनियनों ने 15 और 16 मार्च को देश भर में हड़ताल करने की घोषणा की है.

सरकार ने पहले ही IDBI बैंक का निजीकरण इसमें बड़ी हिस्सेदारी 2019 में LIC को बेचकर कर दिया था. इसके साथ उसने पिछले चार सालों में 14 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का विलय किया है. 15 और 16 मार्च को बैंक हड़ताल होने पर लगातार चार दिन बैंकिंग कामकाज बंद रहेगा क्योंकि 14 मार्च को रविवार है और 13 मार्च को दूसरा शनिवार है.



अबतक 14 सार्वजनिक बैंकों का हो चुका है मर्जर

केंद्र सरकार साल 2019 में ही LIC में IDBI Bank का मेजोरिटी हिस्सा बेच चुकी है. इसके साथ ही पिछले 4 सालों में 14 सार्वजनिक बैंकों का मर्जर किया है. अभी देश में 12 सरकारी बैंक हैं. उसके बाद इनकी संख्या घटकर 10 रह जाएगी. दो बैंकों का निजीकरण फिस्कल ईयर 2021-22 में किया जाएगा.

6 में से 5 दिन बंद रहेंगे बैंक

आपको बता दें गुरुवार 11 मार्च को महाशिवरात्रि की वजह से देश के उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे उत्तर भारत के राज्यों में बैंकों का अवकाश है. इसके अलावा 13 मार्च को महीने का दूसरा शनिवार है, जिसकी वजह से बैंकों में कामकाज नहीं होगा. रविवार यानी 14 मार्च को भी बैंक बंद रहेंगे. फिर 15 और 16 मार्च को बैंक की हड़ताल है, जिसकी वजह से भी बैंक बंद रहेंगे. यानी बैंक 5 दिन तक बंद रहेंगे.

यह भी पढ़ें: Mutual Funds में निवेश करने वालों के लिए जरूरी खबर, SEBI ने फिक्स की इंवेस्मेंट की लिमिट, दी ये खास सुविधा

कौन-कौन होगा हड़ताल में शामिल?

UFBU के सदस्यों में ऑल इंडिया बैंक एम्पलाॉइज एसोसिएशन (All India Bank Employees Association -AIBEA), ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कॉन्फेडेरेशन ((All India Bank Officers Confederation -AIBOC), नेशनल कॉन्फेडेरेशन ऑफ बैंक एम्पलॉइज (National Confederation of Bank Employees - (NCBE), ऑल बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन (All India Bank Officers Association -AIBOA) और बैंक एम्पलॉइज कॉन्फेडेरेशन ऑफ इंडिया (Bank Employees Confederation of India -BEFI) शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज