Home /News /business /

sbi comprehensive digital security guidelines to ensure safety of transactions arnod

डिजिटल ट्रांजेक्शन करते समय SBI की इन बातों का रखें ध्यान, हैकरों से सुरक्षित रहेगा आपका बैंक अकाउंट

सुरक्षित डिजिटल ट्रांजेक्शन के लिए एसबीआई ने अपने ग्राहकों के साथ डिजिटल सिक्योरिटी गाइडलाइन साझा की है.

सुरक्षित डिजिटल ट्रांजेक्शन के लिए एसबीआई ने अपने ग्राहकों के साथ डिजिटल सिक्योरिटी गाइडलाइन साझा की है.

एसबीआई ने अपने कस्टमर्स से एक डिजिटल सिक्योरिटी गाइडलाइन (Digital Security Guidelines) साझा की है. इसमें बताया गया है कि डिजिटल ट्रांजेक्शंस को सुरक्षित रखने के लिए उन्हें क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए.

नई दिल्ली. डिजिटल ट्रांजेक्शन में बढ़ती धोखाधड़ी को देखते हुए ग्राहकों की सुरक्षा बहुत जरूरी है. इसी को ध्यान में रखते हुए देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने डिजिटल सिक्योरिटी गाइडलाइन तैयार की है. इस गाहइडलाइन को बैंक ने अपने ग्राहकों से साझा किया है.

अगर आपका भी खाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में है तो डिजिटल ट्रांजेक्शन को सुरक्षित रखने के लिए यह जनना जरूरी है कि आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए. डिजिटल बैंकिंग, डिजिटल ट्रांजेक्शन, ऑनलाइन पेमेंट करते समय इन बातों का ध्यान रख आप अपने खाते को हैकरों से सुरक्षित रख सकते हैं.

ये भी पढ़ें- कौन सा बैंक दे रहा फिक्स्ड डिपॉजिट पर ज्‍यादा ब्याज, FD कराने से पहले चेक कर लें नई दरें

लॉग-इन सुरक्षा
डिजिटल ट्रांजेक्शन के लिए सबसे पहले लॉग-इन करना होता है. यह पासवर्ड प्रोटेक्टेड होता है. इसलिए ऐसा पासवर्ड रखें जो ज्यादा कठिन हो. समय-समय पर पासवर्ड बदलते रहें. इसके अलावा अपनी यूजर आईडी, पासवर्ड या पिन की जानकारी किसी से भी साझा न करें. यहां यह जानना जरूरी है कि बैंक कभी भी आपसे यूजर आईडी, पासवर्ड, पिन, सीवीवी, ओटीपी या कार्ड नंबर की जानकारी नहीं मांगता है. अपने कंप्यूटर, मोबाइल या टैब पर यूजर आईडी और पासवर्ड को कभी भी स्टोर कर के न रखें. बेहतर होगा कि अपनी डिवाइस में ऑटो सेव या रिमेम्बर फंक्शन को निष्क्रिय रखें.

इंटरनेट सुरक्षा
बैंक की वेबसाइट खोलते समय हमेशा https पर जरूर ध्यान दें. इसके अलावा सार्वजनिक जगहों के वाई-फाई नेटवर्क्स के इस्तेमाल से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन से बचें. अगर आपका काम खत्म हो जाए तो हमेशा लॉग आउट करें और ब्राउजर को बंद करें.

यूपीआई सुरक्षा
अपने मोबाइल पिन और यूपीआई पिन को हमेशा अलग-अलग रखें. किसी अनजान यूपीआई अनुरोध पर प्रतिक्रिया न दें. संदिग्ध अनुरोधों पर हमेशा रिपोर्ट करें. अगर आपकी जानकारी के बगैर कोई ट्रांजेक्शन हुआ है तो तुरंत यूपीआई सर्विस को निष्क्रिय कर दें.

कार्ड की सुरक्षा
डेबिट या क्रेडिट कार्ड से ट्रांजेक्शन करते समय एटीएम मशीनों या पीओएस डिवाइसेज पर नजर रखें. इनमें पिन डालते समय सावधानी बरतें और कीपैड को कवर रखें. डेबिट कार्ड से किए जाने वाले ट्रांजेक्शन को ऑनलाइन बैंकिंग से ही करें और जिसे भुगतान कर रहे हैं उसकी प्रमाणिकता जरूर जांच लें. कार्ड से किए जाने वाले ट्रांजेक्शन के लिए एक लिमट तय कर लें.

मोबाइल बैंकिंग
मोबाइल बैंकिंग के लिए मजबूत पासवर्ड और बायोमीट्रिक परमिशन को हमेशा सक्रिय रखें. अपना मोबाइल पिन किसी से साझा न करें. बायोमीट्रिक अथॉन्टिकेश का इस्तेमाल करेंगे तो सुरक्षा के लिहाज से बेहतर रहेगा. किसी अनजान ऐप को डाउनलोड करने और पब्लिक प्लेस के वाई-फाई नेटवर्क का इस्तेमाल करने से बचें.

ये भी पढ़ें- SBI Card यूजर्स को मिलेगा बेहतर डिजिटल अनुभव, TCS के साथ किया समझौता, चेक करें डिटेल्‍स

सोशल मीडिया सुरक्षा
सोशल मीडिया पर आप जिससे बात कर रहे हैं उसकी पहचान की हमेशा पुष्टि करें. किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपनी व्यक्तिगत वित्तीय और गोपनीय जानकारी के बारे में न तो चर्चा करें और न इसे साझा  करें.

Tags: Digital payment, Sbi, SBI ATM card, SBI Bank

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर