• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • SBI ने फिर सस्‍ता किया कर्ज! बेस रेट और PLR में की कटौती, अब कम चुकानी होगी EMI

SBI ने फिर सस्‍ता किया कर्ज! बेस रेट और PLR में की कटौती, अब कम चुकानी होगी EMI

SBI ने प्राइम लेंडिंग रेट्स यानी पीएलआर में भी कटौती का ऐलान किया है.

SBI ने प्राइम लेंडिंग रेट्स यानी पीएलआर में भी कटौती का ऐलान किया है.

स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने ऐलान किया है कि प्राइम लेंडिंग रेट (PLR) को 5 आधार अंक यानी 0.05 फीसदी की कटौती (Rates Cut) के बाद 12.20 फीसदी कर दिया गया है. नई दरें 15 सितंबर 2021 यानी कल से लागू हो जाएंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्‍ली. देश के सबसे बड़े कर्जदाता स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने ग्राहकों को राहत देते हुए ब्‍याज दरों में कटौती (Rate Cut) का ऐलान किया है. एसबीआई ने 14 सितंबर 2021 को फैसला किया है कि आधार दरों (Base Rates) में 5 आधार अंक यानी 0.05 फीसदी की कटौती की जाएगी. इसके बाद नई ब्‍याज दरें 7.45 फीसदी हो जाएंगी. वहीं, बैंक ने कहा है कि लेंडिंग रेट (PLR) में भी 5 आधार अंक की कटौती कर 12.20 फीसदी किया जाएगा. नई दरें 15 सितंबर 2021 यानी कल से लागू हो जाएंगी.

    अब कम देनी होगी लोन की ईएमआई
    एसबीआई के इस फैसले का आम आदमी की जेब पर सीधा असर पड़ेगा. इससे एसबीआई के ग्राहकों को अब होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन समेत कई तरह के लोन की मासिक किस्त कम देनी होगी. बता दें कि जुलाई 2010 के बाद लिए गए सभी होम लोन बेस रेट से लिंक्ड हैं. इस मामले में बैंकों को आजादी है कि वे कॉस्ट ऑफ फंड्स की गणना औसत फंड कॉस्‍ट के हिसाब से करें या एमसीएलआर के हिसाब से करें. इससे पहले पिछले सप्‍ताह निजी क्षेत्र के कोटक महिंद्रा बैंक ने होम लोन की ब्याज दर में कटौती का ऐलान किया था. कोटक महिंद्रा बैंक ने 0.15 फीसदी कटौती की है. कटौती के बाद होम लोन की ब्याज दर 6.50 फीसदी पर आ गई है.

    ये भी पढ़ें- Elon Musk के ट्वीट से कुछ क्रिप्‍टोकरेंसी में फिर आई तेजी, Shiba Floki में आया 1000 फीसदी का उछाल

    जून में एसबीआई ने की थी MCLR में कटौती
    स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने जून 2021 में भी दरों में कटौती की थी. तब एसबीआई ने एमसीएलआर (MCLR) में 0.25 फीसदी की कटौती की थी. इसके बाद एसबीआई का एमसीएलआर एक साल के लिए घटकर 7.00 फीसदी रह गया है. इससे पहले यह दर एक साल के लिए 7.25 फीसदी थी. नई दरें 10 जून 2020 से लागू हो चुकी हैं. बैंक ने इसके अलावा बेस रेट में भी कटौती की थी. इसके बाद नई दर 7.40 फीसदी रह गई. बैंक ने रेपो रेट में की गई 0.40 फीसदी कटौती का पूरा फायदा कर्ज लेने वालों को दिया. यह फायदा उन कस्टमर को मिला है जिन्होंने एक्सटर्नल बेंचमार्क लिंक्ड लेंडिंग रेट (EBR) के आधार पर लोन लिया है. इसी तरह रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (RLLR) पर लोन लेने वालों को भी फायदा मिला.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज