शेयर बाजार की जोरदार तेजी से वित्तीय स्थिरता को खतरा, जानें क्या बोले SBI इकोनॉमिस्ट

SBI economists

भारतीय स्टेट बैंक के अर्थशास्त्रियों (SBI economists) ने कहा देश की वित्तीय स्थिरता को लेकर जोखिम पैदा हो सकता है. वहीं, खुदरा निवेशकों ने बाजार में काफी रुचि दिखाई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली: भारतीय स्टेट बैंक के अर्थशास्त्रियों (SBI economists) ने कहा है कि बीते साल दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में भारतीय कंपनियों के मार्केट कैप (Market Cap) में सबसे तेज वृद्धि हुई है. हालांकि, इस दौरान देश के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में गिरावट आई. इससे देश की वित्तीय स्थिरता को लेकर जोखिम पैदा हो सकता है. एसबीआई के अर्थशास्त्रियों ने नोट में कहा कि खुदरा निवेशकों ने बाजार में काफी रुचि दिखाई है. वित्त वर्ष 2020-21 में खुदरा निवेशकों की संख्या में 1.42 करोड़ की बढ़ोतरी हुई. वहीं, अप्रैल और मई में इनकी संख्या 44 लाख और बढ़ गई.

    देश के सबसे बड़े बैंक के अर्थशास्त्रियों ने कहा कि इस दौरान शेयर बाजारों में वृद्धि की वजह यह रही है कि अन्य वित्तीय उत्पादों पर रिटर्न की दर कम है साथ ही वैश्विक स्तर पर तरलता बेहतर हुई. इसके साथ ही आवाजाही पर अंकुशों की वजह से लोग घर पर ज्यादा समय बिता रहे हैं जिससे वे अधिक ट्रेडिंग कर रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: FD धारकों के लिए बड़ी खबर, अगर यहां लगाया है पैसा तो मिल सकती है 966 करोड़ के फंड को मंजूरी, जानें क्या है प्लान?

    शेयर बाजार में दिख रही है बढ़त
    बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स अप्रैल, 2020 में 28,000 था, जो फिलहाल 52,000 अंक के स्तर से अधिक पर है. एसबीआई के अर्थशास्त्रियों ने कहा, ‘‘शेयर बाजारों में ऐसे समय बढ़त जबकि वास्तविक अर्थव्यवस्था में कोई उल्लेखनीय घटनाक्रम नहीं हो रहा है. इसके साथ ही वित्तीय स्थिरता का मुद्दा पैदा हो सकता है. हमारे वित्तीय स्थिरता सूचकांक के अनुसार इसमें अप्रैल, 2021 में सबसे कम सुधार हुआ है.’’

    बीएसई में 1.8 गुना की बढ़ोतरी हुई
    यहां उल्लेखनीय है कि पूर्व में रिजर्व बैंक की शेयर बाजारों में जोरदार तेजी की वजह से वित्तीय स्थिरता के जोखिम का अंदेशा जता चुका है. नोट में कहा गया है कि बीते साल बीएसई में 1.8 गुना की बढ़ोतरी हुई, जो प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में सबसे अधिक है. इस दौरान रूस के बेंचमार्क में 1.64 गुना, ब्राजील में 1.60 गुना और चीन में 1.59 गुना की वृद्धि हुई.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.