• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • SBI के 44 करोड़ खाताधारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने खत्म किए चार्जेस, आपके बचेंगे पैसे

SBI के 44 करोड़ खाताधारकों के लिए बड़ी खुशखबरी! बैंक ने खत्म किए चार्जेस, आपके बचेंगे पैसे

SBI ने खास सर्विस! अब नहीं होगी कैश निकालने की टेंशन, घर पहुंचेगी ATM मशीन

SBI ने खास सर्विस! अब नहीं होगी कैश निकालने की टेंशन, घर पहुंचेगी ATM मशीन

भारत के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने आज आपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है. बैंक ने जानकारी दी है कि वह अकाउंट में मिनिमम बैलेंस (minimum balance) रखने का चार्ज और SMS चार्जेज अब बचत बैंक खाता ग्राहकों से नहीं लेगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने आज आपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है. बैंक ने जानकारी दी है कि वह अकाउंट में मिनिमम बैलेंस (minimum balance) रखने का चार्ज और SMS चार्जेज अब बचत बैंक खाता ग्राहकों से नहीं लेगा. उसने ये शुल्क माफ कर दिया है.

    लाइव मिंट  की खबर के मुताबिक SBI ने आज ट्वीट कर कहा है कि एसबीआई बचत खाताधारकों के लिए अच्छी खबर है. अब आपको एसएमएस सेवा और मासिक न्यूनतम राशि नहीं रखने पर भी (non-maintenance of monthly average balance) शुल्क नहीं लेगा. एसबीआई के 44 करोड़ से अधिक बचत खाताधारकों ये सुविधा मिलेगी.

    क्या यह सुविधा उन सभी एसबीआई बचत खातों के लिए है जिनमें इंटरनेट बैंकिंग और चेक बुक की सुविधा है? इस सवाल के जवाब में, एसबीआई ने एक ट्वीट में कहा कि ये चार्जेस सभी बचत खातों के लिए लागू है.

    ये भी पढ़ें:- SBI की सुविधा! जरूरत पड़ने पर बैंक खाते के बैलेंस से ज्यादा निकाल सकेंगे पैसे

    अनलिमिटेड मुफ्त एटीएम लेनदेन का लाभ मिलता है इन खाताधारकों को 
    बता दें कि SBI उन लोगों को मुफ्त एटीएम लेनदेन की उच्च संख्या प्रदान करता है जो अपने बचत खातों में अधिक संतुलन बनाए रखते हैं. उदाहरण के लिए, खाताधारक जो, 1 लाख से अधिक का बैलेंस बनाए रखते हैं, उन्हें एक महीने में अनलिमिटेड मुफ्त एटीएम लेनदेन का लाभ मिलता है.

    मार्च में भी बैंक ने हटाई थी औसत मासिक न्यूनतम राशि रखने की अनिवार्यता
    इस साल मार्च में, एसबीआई ने घोषणा की थी कि वह सभी बचत बैंक खातों के लिए औसत मासिक न्यूनतम राशि रखने की अनिवार्यता समाप्त कर दी है. इससे अब बैंक के सभी बचत खाताधारकों को जीरो बैलेंस की सुविधा मिलने लगेगी. बता दें कि उस समय बैंक मेट्रो शहरों में बचत खाताधारकों को न्यूनतम राशि के रूप में 3000 रुपये, कस्बों में 2000 रुपये और ग्रामीण इलाकों में 1000 रुपये खाते में रखने होते थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज