SBI ने 30 बेसिस प्वाइंट बढ़ाया होम लोन दर, जानिए अब कितना देना होगा ब्याज

SBI ने 30 बेसिस प्वाइंट बढ़ाया होम लोन दर, जानिए अब कितना देना होगा ब्याज
SBI Alert! भूलकर भी न शेयर करें PAN-Aadhaar सहित ये डिटेल्स वरना होगा ये हश्र

MCLR में कटौती करने के ठीक बाद ही SBI ने रेपो लिंक्ड होम लोन दरों में 30 आधार अंकों का इजाफा कर दिया है. इसके अलावा प्रॉपर्टी के आधार पर लिए जाने वाले पर्सनल लोन (P-LAP) पर भी ब्याज दर में 0.30 फीसदी का इजाफा किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने रेपो रेट लिंक्ड होम लान दर (Repo Linked Home Loan Rates) में 30 आधार अंक यानी 0.30 फीसदी का इजाफा कर दिया है. बैंक अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से बॉरोअर्स और रियल्टी फर्म्स के लिए क्रेडिट रिस्क बढ़ गया है. SBI ने प्रॉपर्टी के आधार पर लिए जाने वाले पर्सनल लोन (P-LAP) पर भी ब्याज दर में 0.30 फीसदी का इजाफा किया है.

MCLR में 15 आधार अंक की कटौती
इसके पहले गुरुवार को ही MCLR बेंचमार्क लेंडिंग रेट में 15 अधार अंक की कटौती का ऐलान किया था. इसके बाद MCLR से लिंक्ड होम लोन की ब्याज दरें कम हो गई हैं और लोन लेने वाले लोगों को कम ईएमआई देनी होगी.

अधिकतर बैंक MCLR या रेपो रेट लिंक्ड दर पर ही होम लोन देते हैं. SBI ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लिंक्ड लेंडिंग रेट को 7.05 फीसदी पर ही स्थिर रखा है. होम लोन रेट्स में 30 फीसदी का यह इजाफा मार्जिन बढ़ाकर किया गया है. नई दरें 1 मई 2020 से लागू होंगी.
यह भी पढ़ें: SBI में कराई है FD तो आपको लगेगा झटका! अब इतना कम हुआ मुनाफा



क्या होंगी अब नई ब्याज दरें
>> 75 लाख रुपये तक के लोन पर SBI ने दरों में 20 आधार अंक का इजाफा किया है. जबकि, 30 लाख रुपये के लोन पर प्रभावी दर अब 7.40 फीसदी होगा, जोकि 1 अप्रैल 2020 को 7.20 फीसदी होगा.

>> 30 लाख से लेकर 75 लाख रुपये तक के लोन पर प्रभावी दर 7.45 फीसदी की जगह अब 7.65 फीसदी होगा. जबकि, 75 लाख रुपये से अधिक के होम लोन पर नई दर 7.75 फीसदी होगी. इसके पहले यह 7.55 फीसदी थी.

>> Maxgain होम लोन कैटेगरी में ब्याज दरों को 30 आधार अंक तक बढ़ाया है. इसके बाद अब 30 लाख रुपये तक के लिए होम लोन पर ब्याज दर 7.45 फीसदी से बढ़कर 7.75 फीसदी हो गया है.

>> SBI ने पर्सनल लोन अगेन्स्ट प्रॉपर्टी (P-LAP) में भी 30 आधार अंकों का इजाफा किया है. P-LAP पर प्रभावी ब्याज दर 8.90 फीसदी से बढ़कर 9.20 फीसदी हो गया है. 1 करोड़ रुपये से अधिक और 2 करोड़ रुपये से कम के लोन पर यह 9.40 फीसदी से बढ़कर 9.70 फीसदी हो गया है.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में SBI ने सस्ता किया होम-ऑटो-पर्सनल लोन, होगी 3000 रुपये की बचत‬

फाइनेंशियल मार्केट में क्रेडिट रिस्क बढ़ा
न्यूज एजेंसी पीटीआई ने बैंक अधिकारियों के हवाले से कहा है कि फाइनेंशियल मार्केट में कोविड-19 महामारी की वजह से क्रेडिट रिस्क बढ़ने की आशंका है. बैंक द्वारा क्रेडिट रिस्क प्रीमियम चार्ज (Credit Risk Premium Charge) में बॉरोअर्स और रियल एस्टेट में यह देखने को मिल रहा है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के मामलों में इजाफा होने के बाद भी SBI ने ब्याज दरों को पर्तिस्पर्धी स्तर पर बनाए रखा है.

एक महीने पहले ही SBI ने घटाई थी ब्याज दरें
करीब एक महीने पहले ही SBI ने होम लोन में 75 आधार अंक की बड़ी कटौती किया था. 1 अप्रैल को बैंक ने एक्सटर्नन बेंचमार्क लिंक्ड लेंडिंग रेट (EBR) और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (RLLR) को रिवाइज किया था. RBI द्वारा रेपो रेट में कटौती के बाद एसबीआई ने यह फैसला लिया था.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बीच 65 लाख लोगों के खाते में पहुंचे 764 करोड़ रु! चेक करें अपना खाता
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading