Home /News /business /

sbi hikes lending rates on loans from today emis to go up rrmb

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने आज से बढ़ाई MCLR दर, बढ़ जाएगी ईएमआई, जानिए लेटेस्‍ट रेट

एसबीआई ने पिछले सप्‍ताह ही फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट्स पर ब्‍याज दरें बढाई थी.

एसबीआई ने पिछले सप्‍ताह ही फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट्स पर ब्‍याज दरें बढाई थी.

बैंकों के लोन के लिए MCLR बेंचमार्क होता है. इसमें वृद्धि होने पर लोन की ब्याज दर बढ़ जाती है. इसमें कमी होने पर लोन लोन की दर घट जाती है. रिजर्व बैंक (RBI) ने नियंत्रित करने के‍ लिए हाल ही में रेपो रेट में बढ़ोतरी की थी.

हाइलाइट्स

बैंकों के लोन के लिए MCLR बेंचमार्क होता है. इसमें वृद्धि होने पर लोन की ब्याज दर बढ़ जाती है.
छह महीनों के लोन की एमसीएलआर रेट को भी 7.45 फीसदी से बढ़ाकर 7.65 फीसदी कर दिया है.
एक साल की दर को 7.5 फीसदी से बढ़ाकर 7.7 फीसदी कर दिया गया है.

नई दिल्‍ली. भारतीय स्‍टेट बैंक ने आज यानी 15 अगस्‍त से लोन पर अपनी मार्जिनल कॉस्‍ट ऑफ फंड बेस्‍ट लेडिंग रेट (MCLR) को बढ़ा दिया है. बैंक के इस कदम से उन ऋणदाताओं की ईएमआई बढ़ जाएगी, जिनका लोन एमसीएलआर से लिंक्‍ड है. भारतीय रिजर्व बैंक ने इस महीने ही रेपो रेट में 50 आधार अंकों की बढ़ोतरी कर दी थी. इस वृद्धि के बाद से ही बैंकों ने विभिन्‍न लेंडिंग रेट में इजाफा कर दिया है. एसबीआई ने पिछले सप्‍ताह ही फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट्स पर ब्‍याज दरें बढाई थी.

लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, ओवरनाइट से लेकर तीन महीने तक के लोन की एमसीएलआर रेट को बैंक ने अब 7.15 फीसदी से बढ़ाकर 7.35 फीसदी कर दिया है. इसी तरह छह महीनों के लोन की एमसीएलआर रेट को भी 7.45 फीसदी से बढ़ाकर 7.65 फीसदी कर दिया है. एक साल की दर को 7.5 फीसदी से बढ़ाकर 7.7 फीसदी कर दिया गया है तो 2 साल की एमसीएलआर दर 7.7 फीसदी से बढ़कर 7.9 फीसदी और तीन साल की एमसीएलआर की दर 7.8 फीसदी से बढ़कर 8 फीसदी हो गई है. पिछले महीने भी भारतीय स्‍टेट बैंक ने एमसीएलआर में 10 आधार अंकों की बढ़ोतरी की थी.

ये भी पढ़ें-  देश की आजादी के साथ अगर आप भी हुए 75 साल के तो मिलेंगे टैक्स से जुड़े कई लाभ

क्‍या होता है MCLR?

बैंकों के लोन के लिए MCLR बेंचमार्क होता है. इसमें वृद्धि होने पर लोन की ब्याज दर बढ़ जाती है. इसमें कमी होने पर लोन लोन की दर घट जाती है. रिजर्व बैंक ने नियंत्रित करने के‍ लिए हाल ही में रेपो रेट में बढ़ोतरी की थी. उसके बाद से सभी बैंकों ने भी अपना एमसीएलआर बढ़ा दिया है.

ये भी पढ़ें-  अभी दो तिमाही और ठंडा रहेगा आईपीओ बाजार, उतार-चढ़ाव से अटके 1.6 लाख करोड़ के पब्लिक इश्‍यू

एफडी ब्‍याज दरों में भी किया इजाफा

पिछले सप्‍ताह ही एसबीआई ने फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट की ब्‍याज दरों इजाफा था. इस बढ़ोतरी के बाद आम ग्राहकों को 2.90 फीसदी से 5.65 फीसदी तक ब्‍याज मिलेगा. वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए ब्‍याज की नई दर 3.40 फीसदी से 6.45 फीसदी तक होगी.

एसबीआई ने 180 दिन से 210 दिनों की एफडी पर रेट बढ़ाकर 4.55 फीसदी कर दिया है. एक साल से 2 साल से कम के लिए रेट 5.30 फीसदी से बढ़कर 5.45 फीसदी, 2 साल से 3 साल के कम के लिए एफडी पर ब्‍याज 6 फीसदी और 3 साल से 5 साल से कम के लिए अब बैंक एफडी पर 6.10 फीसदी ब्‍याज देगा. वहीं, 5 साल से 10 तक के लिए ब्‍याज दरें 6.45 फीसदी हो गई है.

Tags: Bank interest rate, Bank Loan, Business news, Business news in hindi, Fixed deposits, Interest Rates, Sbi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर