SBI का बड़ा ऐलान, KYC के लिए नहीं जाना होगा ब्रांच, जानिए डिटेल्स

YONO ऐप से घर बैठे खुल जाएगा खाता

YONO ऐप से घर बैठे खुल जाएगा खाता

Video KYC को लेकर बैंक ने कहा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित यह डिजिटल पहल एक कॉन्टैक्टलेस और पेपरलेस प्रोसेस है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 7:15 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई यानी भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों के एक बड़ी राहत देते हुए वीडियो केवाईसी (Video KYC) की शुरूआत की है. कोरोना की मौजूदा स्थिति की देखते हुए जहां लोगों को घर ही में रहने की हिदायत दी जा रही है. उसी को ध्यान में रखते हुए एसबीआई ने बैंक में खाता खुलवाने के लिए किसी ब्रांच में जाने के बजाय घर बैठे वीडियो के जरिए ही केवाईसी करने का विकल्प दिया है.



एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा (Dinesh Khara) का कहना है कि ऑनलाइन बचत खाता खोलने की सुविधा की घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है जो मौजूदा महामारी की स्थिति में बहुत आवश्यक है. हमें विश्वास है कि यह पहल मोबाइल बैकिंग में एक नया आयाम जोड़ेगी और ग्राहकों को उनकी बैकिंग जरूरतों के लिए डिजिटल सशक्त भी बनाएगी. बैंक ने कहा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित यह डिजिटल पहल एक कॉन्टैक्टलेस और पेपरलेस प्रोसेस है. मालूम हाे पिछले साल से कई निजी बैंक अपने कस्टमर्स को वीडियो केवाईसी की सुविधा दे रहे हैं. 



ऐसे कर सकते है YONO ऐप से वीडियो केवाईसी




  • अपने फोन पर YONO ऐप डाउनलोड करें 


  • ‘New to SBI’ पर क्लिक करें और ‘Insta Plus Savings Account’ को सेलेक्ट करें


  • फिर, ऐप में अपना आधार डिटेल दर्ज करें




  • आधार ऑथेंटिकेशन पूरा हो जाने के बाद यूजर्स को पर्सनल डिटेल्स इनपुट करना होगा


  • फिर, ग्राहक को केवाईसी प्रक्रिया को पूरा करने के लिए एक वीडियो कॉल शेड्यूल करना होगा.


  • वीडियो केवाईसी पूरा होने के बाद SBI में खाता अपने आप खुल जाएगा




ये भी पढ़ें - कल आएंगे ICICI BANK के नतीजे, चौथी तिमाही में ऐसा रह सकता है बैंक का प्रदर्शन



2017 में लॉन्च हुआ था YONO



नवंबर 2017 में लॉन्च किया गया YONO ऐप 8 करोड़ डाउनलोड्स हो चुका है और 3.7 करोड़ से अधिक रजिस्टर्ड यूजर्स हैं. SBI ने YONO प्लेटफॉर्म पर 20 से अधिक कैटेगरी में 100 से ज्यादा -कॉमर्स कंपनियों के साथ साझेदारी की हुई है. 



बिना बैंक ब्रांच गए खुल जाएगा खाता



वीडियों कॉल के जरिए ग्राहकों का बैंक अकाउंट खोलने की प्रक्रिया एक बड़ा कदम है और इससे ब्रांचलेस बैंकिंग को नई दिशा मिलेगी. इसके अलावा रिमोट ग्राहकों तक पहुंच बढ़ाने में बैंकों को मदद मिलेगी. वर्तमान में, अकाउंट खुलवाने के लिए ग्राहक को चलकर बैंक ब्रांच पहुंचना होता है और फिर फॉर्म भरने होते हैं या फिर एजेंट आपके घर आपके डॉक्यूमेंट्स और हस्ताक्षर लेते हैं. कुछ मामलों में आधार के जरिए ऑनलाइन बेसिक बैंक अकाउंट खोले जा सकते हैं, लेकिन फुल सर्विस अकाउंट्स के लिए पेपर डॉक्यूमेंटेशन अनिवार्य है



ये भी पढ़ें -  एब्यूसिव कमेंट्स से हैं परेशान! Instagram का नया फीचर दिलाएगा निजात



क्या है KYC?



केवाईसी रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा संचालित एक पहचान प्रक्रिया है जिसकी मदद से बैंक और अन्य वित्तीय संस्थाएं अपने ग्राहक के बारे में अच्छे से जान पाती है. KYC यानी 'नो योर कस्टमर' अपने ग्राहक को जानिए. बैंक और वित्तीय कंपनियां इसके लिए फॉर्म को भरवा कर इसके साथ कुछ पहचान के प्रमाण भी लेती है. 



केवाईसी के लिए जरूरी कागजात



1. पासपोर्ट



2. मतदाता पहचान पत्र



3. ड्राइविंग लाइसेंस



4. आधार कार्ड



5. नरेगा कार्ड



6. पैन कार्ड


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज