SBI को बड़ा झटका! 411 करोड़ रुपये का चूना लगाकर देश से फरार हो गई ये कंपनी, जानिए पूरा मामला?

SBI को बड़ा झटका! 411 करोड़ रुपये का चूना लगाकर देश से फरार हो गई ये कंपनी, जानिए पूरा मामला?
SBI ने ग्राहकों को किया अलर्ट! फ्रॉड के नए तरीकों को लेकर जारी की ये वार्निंग

देश के सबसे बड़े सरकार बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) को दिल्ली की एक फर्म ने 411 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है. इसके बाद इस कंपनी के मालिक देश से फरार हो चुके हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े सरकार बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) को दिल्ली की एक फर्म के तीन प्रवर्तक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की अगुवाई वाले छह बैंकों के गठजोड़ के साथ 411 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है. इसके बाद इस कंपनी के मालिक देश से फरार हो चुके हैं. सीबीआई ने हाल में इनके खिलाफ मामला दर्ज किया है. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि एसबीआई द्वारा इनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराए जाने से पहले ही ये देश से भाग चुके हैं.

एसबीआई की शिकायत पर इन लोगों पर मामला दर्ज
सीबीआई ने हाल में पश्चिम एशियाई देशों और यूरोपीय देशों को बासमती चावल का निर्यात करने वाली कंपनी और उसके निदेशकों नरेश कुमार, सुरेश कुमार और संगीता के खिलाफ एसबीआई की शिकायत पर मामला दर्ज किया था. एसबीआई ने आरोप लगाया है कि इन लोगों ने उसको 173 करोड़ रुपये का चूना लगाया है.

ये भी पढ़ें: नौकरी चली गई तो भी डरें नहीं! मोदी सरकार की इस योजना से 2 साल तक मिलेगी सैलरी
लोन देने वाले बैंकों में ये बैंक भी हैं शामिल 


एसबीआई ने शिकायत में कहा है कि कंपनी की करनाल जिले में तीन चावल मिलें, आठ छंटाई और ग्रेडिंग इकाइयां हैं. कंपनी ने व्यापार के लिए सऊदी अरब और दुबई में कार्यालय भी खोले हुए हैं. एसबीआई के अलावा कंपनी को ऋण देने वाले बैंकों में केनरा बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, आईडीबीआई, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया और कॉरपोरेशन बैंक शामिल हैं.

लॉकडाउन के चलते अभी छापेमारी नहीं हुई
अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते अभी तक इस मामले में छापेमारी की कार्रवाई नहीं की गई है. जांच एजेंसी इस मामले में आरोपियों को समन की प्रक्रिया शुरू करेगी. अधिकारियो ने कहा कि यदि आरोपी जांच में शामिल नहीं होते हैं, तो उनके खिलाफ उपयुक्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी. एसबीआई की शिकायत के अनुसार इस कंपनी का खाता 27 जनवरी, 2016 को गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) बन गया था.

ये भी पढ़ें: इन बैंकों में एफडी कराने पर सबसे जल्दी होगा आपका पैसा डबल, दे रहे हैं 9% ब्याज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading