लाइव टीवी

SBI के 42 करोड़ ग्राहकों की जेब पर होगा सीधा असर, 1 अक्टूबर से अब तक किए ये बड़े बदलाव

News18Hindi
Updated: October 10, 2019, 1:21 PM IST
SBI के 42 करोड़ ग्राहकों की जेब पर होगा सीधा असर, 1 अक्टूबर से अब तक किए ये बड़े बदलाव
जानिए SBI ने क्या-क्या बदला

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) ने 1 अक्टूबर से अब तक रूल्स में कई बदलाव किया है, जिनके बारे में जानना आपके लिए बहुत जरूरी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 10, 2019, 1:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) ने 1 अक्टूबर से अब तक रूल्स में कई बदलाव किया है. इसका सीधा असर बैंक के खाताधारकों (SBI Account Holders) पर पड़ने वाला है. एसबीआई (SBI) ऐसे कई बदलाव कर चुका है जिससे एक तरह जहां ग्राहकों को फायदा होगा वहीं दूसरी तरफ उन्हें नुकसान भी झेलना पड़ेगा. आज हम आपको एसबीआई के द्वारा किए जा रहे सभी बदलावों के बारे में बता रहे हैं, जिनके बारे में जानना आपके लिए बहुत जरूरी है.

जानिए क्या-क्या बदल रहा है:-

(1) SBI मुफ्त में देगा ये चीजें: पहला सबसे बड़ा बदलाव मंथली एवरेज बैलेंस (MAB) को लेकर होने वाला है. एसबीआई के बैंक अकाउंट में मंथली एवरेज बैलेंस मेंटेन नहीं कर पाने पर चार्ज में कटौती होने वाली है. यह कटौती लगभग 80 फीसदी तक की हो सकती है. अभी आपका बैंक अकाउंट अगर मेट्रो सिटी और शहरी इलाके की ब्रांच में है, तो आपको खाते में एवरेज मंथली बैलेंस क्रमश: 5,000 रुपये और 3,000 रुपये रखना होता है.

ये भी पढ़ें: सिर्फ 1 लाख लगाकर शुरू करें ये बिज़नेस, हर महीने होगी ₹15000 की कमाई!

(2) SBI ने सस्ता किया लोन: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा देते हुए सभी टेन्योर के मार्जिनल कॉस्ट लेंडिंग रेट (MCLR) में 0.10 फीसदी की कटौती की है. इसका फायदा सभी श्रेणी के ग्राहकों को होगा. बैंक ने वित्त वर्ष 2019-20 में लगातार छठवीं बार एमसीएलआर में कटौती की है. यह दरें 10 अक्टूबर से प्रभावी हो जाएंगी. इससे बैंक के मौजूदा ग्राहकों की होम और ऑटो लोन की ईएमआई रिसेट पीरियड के अनुसार घट जाएगी.

(3) डेबिट कार्ड पर ईएमआई की सुविधा: एसबीआई ने रामनवमी के मौके पर डेबिट कार्ड ईएमआई सर्विस को लॉन्च किया है. अगर आपके पास एसबीआई का डेबिट कार्ड है तो आप बेझिझक शॉपिंग कर सकते हैं और बाद में किश्त (ईएमआई) के जरिए पैसा चुका सकते हैं. इसमें कंज्यूमर मिनिमम 6 महीने से 18 महीने तक ईएमआई अवधि का विकल्प चुन सकते हैं. ये सेवा 1500 से अधिक शहरों में शुरू की गई है. कंपनियां लोगों को इंस्टालमेंट में शॉपिंग करने की सहूलियतें दे रही हैं. एसबीआई ने इसी को देखते हुए यह सेवा शुरू की है.


Loading...

(4)ATM से कैश निकालने के रूल में हुए ये बदलाव: 1 अक्‍टूबर से SBI के एटीएम चार्ज भी बदलने वाले हैं. अब बैंक के ग्राहक मेट्रो शहरों के एसबीआई एटीएम में से मैक्सिमम 10 बार फ्री डेबिट ट्रांजेक्शन कर सकेंगे. अभी यह लिमिट 6 ट्रांजेक्‍शन की है. वहीं, अन्य जगहों के एटीएम से मैक्सिसम 12 फ्री ट्रांजेक्शन किया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें: OBC का दिवाली गिफ्ट! कल से घट जाएगी होम और ऑटो लोन की EMI

(5)सेविंग अकाउंट जमा पर कम किया इंटरेस्ट: एसबीआई ने अपने ग्राहकों को झटका दिया है. बैंक ने सेविंग बैंक डिपॉजिट की ब्याज दरों में कटौती की है. बचत खाते में एक लाख रुपये तक जमा रखने वालों के लिए बैंक ने ब्याज दर 3.50 फीसदी से घटाकर 3.25 फीसदी कर दी है. नई दरें एक नवंबर से लागू होंगी.

(6)घटाई ब्याज दरें: एसबीआई ने बैंक ने एक से दो साल की अवधि के रिटेल टर्म डिपॉजिट यानी फिक्स्ड डिपॉजिट और बल्क टर्म डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज में भी कमी की है. एसबीआई ने एफडी पर ब्याज दर में 10 बेसिस प्वाइंट की कमी की है. वहीं बल्क टर्म डिपॉजिट पर ब्याज दर में 30 बेसिस प्वाइंट की कमी की गई है. नई ब्याज दर 10 अक्तूबर से प्रभावी होगी.

ये भी पढ़ें: RBI का बड़ा फैसला, ATM से नहीं निकलेगा 2000 रुपये का नोट! जानिए क्या है वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 7:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...