ये है SBI की स्पेशल फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम! बिना FD तोड़े जरूरत के हिसाब से निकाल सकते हैं पैसा

SBI की स्पेशल FD

SBI की स्पेशल FD

FD के साथ सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि अगर पैसे की जरूरत होने पर इसे तुड़वाना पड़ता है, फिर चाहे जरूरत कुछ ही पैसों की क्यों न हो. इसके कारण आपको कम इंटरेस्ट रेट मिलता है और पेनाल्टी भरनी पड़ती है. इस समस्या से निजात दिलाने के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) एक स्पेशल FD स्कीम लेकर आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 13, 2021, 11:49 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सभी तरह के सेविंग स्कीम्स (Savings Schemes) में फिक्सड डिपॉजिट (Fixed Deposits) लोगों का सबसे पसंदीदा निवेश विकल्प होता है. बचत करने के लिए यह तरीका हर उम्र के लोगों को पसंद आता है. इसका सबसे बड़ा कारण है कि दूसरे स्कीम्स के मुकाबले यह सुरक्षित और सबसे कम जोखिम वाला होता है. छोटी से लेकर लंबी अवधि के लिए भी इसमें निवेश किया जा सकता है. हालांकि FD के साथ सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि अगर पैसे की जरूरत होने पर इसे तुड़वाना पड़ता है, फिर चाहे जरूरत कुछ ही पैसों की क्यों न हो. इसके कारण आपको कम इंटरेस्ट रेट मिलता है और पेनाल्टी भरनी पड़ती है. इस समस्या से निजात दिलाने के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) एक स्पेशल FD स्कीम लेकर आई है.

जानिए क्या है मल्टी ऑप्शन डिपोजिट स्कीम

एसबीआई मल्टी ऑप्शन डिपोजिट स्कीम (SBI Multi Option Deposit Scheme MODS) में आप बिना FD तोड़े इससे जितनी जरूरत हो उतना पैसा निकाल सकते हैं.

मिलती हैं ये सुविधाएं
एसबीआई MODS स्कीम टर्म डिपॉजिट की तरह है, लेकिन यह खाताधारक के सेविंग या करंट अकाउंट से लिंक होता है. इसका फायदा यह है कि आप जरूरत पड़ने पर कभी भी इससे पैसे निकाल सकते हैं. इसमें प्रीमैच्योयर विदड्रॉल की सुविधा है. हालांकि इस पर TDS लगता है. अगर डिपॉजिटर लिंक किए गए खाते से पैसे निकालना चाहता है और उसके खाते में उतने पैसे नहीं हैं, तो वह MODS से भी पैसे निकाल सकता है. पैसे 1000 रुपये या इसके मल्टीपल्स में निकाले जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: Gold Price Today: सोना आज फिर हुआ सस्ता, चांदी के दाम में भी आई गिरावट, जानें 10 ग्राम का भाव

जानिए क्या है स्कीम में खास




>> एसबीआई मल्टी ऑप्शन डिपोजिट स्कीम में कम से कम 10,000 रुपये जमा कराने होते हैं. इसके बाद आप इसमें 1000 रुपये के मल्टीपल्स में और भी रुपये जमा कर सकते हैं. इसमें पैसे जमा करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं है.

>> SBI एमओडी स्कीम का पैसा ATM के जरिये भी निकाल सकते हैं. एमओडी से पैसे निकालने के बाद, जितने पैसे बचेंगे उन पर एफडी पर तय ब्याेज मिलता रहेगा.

>> MODS पर भी उतना ही ब्या ज मिलता है, जितना एसबीआई की अन्य एफडी पर मिलता है.

>> इस स्कीम पर लोन लेने और नॉमिनी की सुविधा उपलब्धी है. इसे SBI की एक ब्रांच से दूसरे ब्रांच में ट्रांसफर किया जा सकता है.

>> MOD कराने वाले कस्टेमर के लिए इससे लिंक्डि सेविंग्सल अकाउंट में मिनिमम मंथली एवरेज बैलेंस रखना अनिवार्य है. इसमें 3000 रुपये मिनिमम बैलेंस रखना होता है. बैलेंस कम होने पर MODS तोड़कर अकाउंट में क्रेडिट किया जाता है.

>> इस स्कीम में इंडिविडुअल, ज्वाइंट, माइनर, फर्म, कंपनी, लोकल बॉडी कोई भी इसमें इन्वेस्ट कर सकता है.

>> SBI एफडी की तरह यहां भी ब्याज 2.9% से 5.9% की दर से मिलेगी. ये दरें 8 जनवरी 2021 से प्रभावी हैं.

>> 5 लाख तक के FD पर अगर आप समय से पहले पैसा निकालते हैं तो 0.50% की पेनाल्टी लगेगी. 5 लाख से 1 करोड़ के बीच की FD पर यह पेनाल्टी 1% होगी. 7 दिन से कम के डिपॉजिट पर कोई ब्याज नहीं मिलता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज