लाइव टीवी

SBI की नई पहल, कोरोना की वजह से कारोबारियों को कम ब्याज पर देगा Loan

hindi.moneycontrol.com
Updated: March 23, 2020, 10:56 AM IST
SBI की नई पहल, कोरोना की वजह से कारोबारियों को कम ब्याज पर देगा Loan
SBI की नई पहल

जिन कारोबारियों को कोरोना वायरस के चलते नुकसान झेलना पड़ा है. उनकी मदद करने के लिए देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक यानी SBI ने एक पहल की है.

  • Share this:
नई दिल्ली. Novel Coronavirus COVID-19 के फैलने के कारण सरकार ने कई तरह के एहतियात के तौर पर कई कदम उठाए हैं. जिसमें शहरों को लॉक डाउन करना, ट्रेन, मेट्रो सर्विस बंद, कुछ राज्यों ने अपनी सीमाओं को भी सील कर दिया है. ऐसे में कारोबारियों को नकुसान होने का अनुमान जताया जा रहा है. लिहाजा जिन कारोबारियों को कोरोना वायरस के चलते नुकसान झेलना पड़ा है. उनकी मदद करने के लिए देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक यानी SBI ने एक पहल की है.

बैंक ने उधार लेने वालों के लिए इमरजेंसी क्रेडिट लाइन खोल दी
बैंक ने एक सर्कुलर जारी किया है. इस सर्कुलर के मुताबिक, बैंक ने उधार लेने वालों (borrowers) के लिए इमरजेंसी क्रेडिट लाइन खोल दी है. ताकि ग्राहकों को नकदी की कमी को पूरा किया जा सके. इस अतिरिक्त लिक्विडिटी सुविधा कोविड 19 इमरजेंसी क्रेडिट लाइन (COVID-19 Emergency Credit Line - CECL ) में 200 करोड़ तक के फंड दिए जाएंगे और ये फंड 30 जून 2020 तक मौजूद रहेगा. इसके तहत 12 महीने की अवधि के लिए 7.25 फीसदी की ब्याज दर पर लोन दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस को लेकर रेलवे का बड़ा फैसला, 31 मार्च तक सभी पैसेंजर ट्रेनें रद्द



सभी के लिए खोली गयी ये लाइन 
इस सर्कुलर में कहा गया है कि बैंक के इस कदम से कोरोना प्रभावित कारोबोरियों को राहत मिलेगी. बैंक ने कहा है कि यह क्रेडिट लाइन सभी स्टैंडर्ड अकाउंट्स (standard accounts) के लिए खुली है, जिन लोगों ने Special Mention Account (SMA) 1 या 2 के तौर पर वर्गीकृत (classified) नहीं किया गया है, वे सभी इस क्रेडिट लाइन का फायदा उठा सकते हैं. बैंक ने ये भी कहा कि लोन लेने वाले वर्तमान में मौजूद फंड बेस्ड वर्किंग कैपिटल लिमिट (Fund Based Working Capital Limits -FBWC) का अधिकतम 10 फीसदी तक अतिरिक्त लोन ले सकते हैं जो 200 करोड़ तक हो सकता है.

6 महीने के बाद 6 समान किस्तों में चुकाया जा सकता है लोन
एक बार में लोन दिया जाएगा. लोन लेने की तारीख से 6 महीने के बाद 6 समान किस्तों में चुकाया जा सकता है. कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस के चलते इंडस्ट्री को तगड़ा नुकसान उठाना पड़ा है. ऐसे में बाजार में लिक्विडिटी बनाए रखने के लिए SBI ने ये पहल की है.

ये भी पढ़ें: COVID-19: आनंद महिंद्रा ने की वेंटिलेटर्स बनाने की पेशकश, देंगे अपनी सैलरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 23, 2020, 10:51 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर