अपना शहर चुनें

States

SBI vs Post Office RD: रिकरिंग डिपॉजिट पर कहां मिल रहा ज्यादा फायदा? यहां पढ़ें पूरी बात

स्मॉल सेविंग्स के लिए इन दोनों स्कीम्स को बेहतर विकल्प माना जाता है.
स्मॉल सेविंग्स के लिए इन दोनों स्कीम्स को बेहतर विकल्प माना जाता है.

रिकरिंग डिपॉजिट (Recurring Deposit) को छोटी सेविंग्स के लिए बेहतर विकल्प माना जाता है. रिकरिंग डिपॉजिट में हर महीने अपनी सेविंग्स का एक हिस्स निवेश किया जाता है, जिसपर ब्याज के हिसाब से रिटर्न मिलता है. आरडी अकाउंट को बैंक या पोस्ट ऑफिस में खोला जा सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. छोटी सेविंग्स के लिए रिकरिंग डिपॉजिट (RD) को एक बेहतर स्कीम माना जाता है. यही कारण है कि छोटी बचत करने वालों के लिए रिकरिंग डिपॉजिट पॉपुलर विकल्प भी है. आरडी अकाउंट बैंकों द्वारा दिया जाने वाला टर्म डिपॉजिट है. एक तरह से इस अकाउंट में हर महीने अपनी सेविंग का एक हिस्सा निवेश करने की सुविधा है. यहां आपके जमा पैसों पर तय ब्याज के हिसाब से रिटर्न मिलता है. एक बार तय की गई किस्त में बदलाव नहीं किया जा सकता. RD अकाउंट को बैंक या पोस्ट ऑफिस दोनों जगह खोला जा सकता है. देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) और पोस्ट ऑफिस दोनों अपने ग्राहकों को RD की सुविधा मुहैया कराते हैं.

जानिए RD पर SBI और पोस्ट ऑफिस कितना दे रहे हैं ब्याज

>> SBI में RD पर आम जनता के लिए ब्याज दरें 5 फीसदी से 5.4 फीसदी तक मिलता है. वहीं सीनियर सिटीजन्स के लिए आधा फीसदी (0.50 फीसदी) अतिरिक्त ब्याज मिलती है. ये ब्याज दरें 8 जनवरी 2021 से लागू हैं. जबकि पोस्ट ऑफिस में RD पर मौजूदा समय में 5.8 फीसदी सालाना ब्याज मिल रहा है. जो तिमाही आधार जुड़ता जाता है. ये ब्याज दरें 1 जनवरी 2021 से लागू हैं.



>> SBI में RD 1 साल से 10 तक का मेच्योरिटी पीरियड है. जबकि पोस्ट ऑफिस में मेच्योरिटी पीरियड 5 साल का है.
>> SBI में RD अकाउंट चेक, कैश के जरिए ओपन कराया जा सकता है, लेकिन पोस्ट ऑफिस में RD अकाउंट केवल कैश से ही ओपन कराया जा सकता है.

>> SBI में आप RD अकाउंट नेट बैंकिंग सुविधा के जरिए ऑनलाइन खुलवा सकते हैं, लेकिन पोस्ट ऑफिस में आपको RD अकाउंट खोलने के लिए आपको पोस्ट ऑफिस के ब्रांच में जाना पड़ेगा.

यह भी पढ़ें: बचत खाते पर सबसे बेस्ट ब्याज दे रहे ये 5 सरकारी बैंक, जानें किस नंबर पर है SBI

>> SBI में RD अकाउट में ग्राहकों को कम से कम हर महीने 100 रुपये जमा करना जरूरी होता है और यह 10 रुपये के गुणक में होना चाहिए. यहां जमा करने की अधिकतम सीमा नहीं है. जबकि पोस्ट ऑफिस में कम से 10 रुपये हर महीने जमा करना जरूरी होता है और 5 रुपये के गुणक में जमा कर सकते हैं. इसमें भी अधिक से अधिक निवेश करने की कोई लिमिट नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज