बच्चे के नाम पर SBI में खोलें ये खास सेविंग अकाउंट, मिलेंगे 5 बड़े फायदे

बच्चे के नाम पर SBI में खोलें ये खास सेविंग अकाउंट, मिलेंगे 5 बड़े फायदे
पहला कदम और पहली उड़ान, दोनों खातों में प्रति दिन ट्रांजैक्शन लिमिट 5,000 रुपये है.

इस अकाउंट की खासियत ये है कि इनमें मंथली एवरेज बैलेंस (MAB) यानी मिनिमम बैंलेंस मेनटेंन करने का झंझट नहीं है. आइए जानते हैं इस अकाउंट के बारे में...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2019, 8:42 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (State Bank Of India) ने नाबालिग के लिए 'पहला कदम और पहली उड़ान' बचत खाता (Saving Account) पेश किया है. इस अकाउंट की खासियत ये है कि इनमें मंथली एवरेज बैलेंस (MAB) यानी मिनिमम बैंलेंस मेनटेंन करने का झंझट नहीं है. साथ ही, इसमें में खाता खोलने पर आपके बच्चे को उसकी फोटो छपा एटीएम (Debi Card) कार्ड के साथ इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा भी मिलेगी. आइए आपको बताते हैं इस खाते के बारे में...

आइए जानते हैं इस अकाउंट के बारे में...

(1) योग्यता



>> पहला कदम- कोई भी नाबालिग बच्चा किसी उम्र यह अकाउंट खोल सकता है, लेकिन यह अकाउंट पैरेंट या अभिभावक के साथ ज्वाइंटली खोला जा सकता है.



>> पहली उड़ान- यह अकाउंट 10 साल की उम्र से बड़ा कोई नाबालिग अपने नाम पर खोल सकता है. ये भी पढ़ें: नौकरी गई तो 2 साल तक पैसे देगी ESIC, सीधे बैंक खाते में पहुंचेगी रकम, जानें पूरी डिटेल



(2) ट्रांजैक्शन लिमिट- पहला कदम और पहली उड़ान, दोनों खातों में प्रति दिन ट्रांजैक्शन लिमिट 5,000 रुपये है और मोबाइल बैंकिंग की लिमिट 2,000 रुपये है. नाबालिग इस खाते से बिल पेमेंट्स, इंटर-बैंक फंड्स ट्रांसफर (सिर्फ NEFT), डिमांड ड्राफ्ट बनाने और ई-टर्म डिपॉजिट्स (e-term deposits) कर सकते हैं.

(3) ब्याज दर- पहला कदम और पहली उड़ान में बचत बैंक खाता के समान ही ब्याज मिलते हैं. 1 लाख रुपये से कम सेविंग ब्याज पर SBI की ब्याज दर 3.25% है. वहीं 1 लाख रुपये ज्यादा पर ब्याज पर 3 फीसदी है.

(4) डेबिट कार्ड-

>> पहला कदम- इसमें डेबिट कार्ड पर बच्चे का फोटा होता है. इस कार्ड से कैश निकालने की सीमा 5,000 रुपये है और यह नाबालिग और अभिभावक के नाम जारी किया जाता है.

>> पहली उड़ान- इसमें मिलने वाले डेबिट कार्ड पर फोटो होता है और इस कार्ड से भी 5,000 रुपये कैश निकाल सकते हैं. यह कार्ड नाबालिग के नाम जारी होता है. ये भी पढ़ें: नौकरीपेशा लोगों के लिए बड़ी खबर, पेंशन पाने के लिए जरूरी होगा ये सर्टिफिकेट, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान



(5) चेकबुक सुविधा-

>> पहला कदम- इसमें पर्सनलाइज्ड चेकबुक नाबालिग के नाम अभिभावक को जारी की जाती है. यह 10 चेक वाला चेकबुक होता है.

>> पहली उड़ान- इस खाते में 10 चेक बुक वाला चेकबुक नाबालिग के नाम जारी किया जाएगा अगर वह Uniformly हस्ताक्षतर कर सकता है.

ये भी पढ़ें: सस्ते में AC और फ्रिज खरीदने का मौका, 1 जनवरी से 6,000 रुपये तक बढ़ सकता है दाम- जानें वजह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading