किरण मजूमदार की कंपनी पर SEBI ने लगाया मोटा जुर्माना, जानें आखिर क्या है कारण?

सेबी ने लगाया जुर्माना

सेबी ने लगाया जुर्माना

सेबी ने फार्मा कंपनी बायोकॉन लि. (Biocon Ltd) पर 14 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. कारोबार बंद रखे जाने के बावजूद कंपनी के शेयरों में सौदे करने के कारण चिरमुले पर जुर्माना लगाया गया.

  • Share this:

नई दिल्ली: सेबी ने फार्मा कंपनी बायोकॉन लि. (Biocon Ltd) और उसके द्वारा प्राधिकृत व्यक्ति पर बाजार नियमों का उल्लघंन करने के मामले में 14 लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया. भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने कंपनी द्वारा नामित व्यक्ति, नरेंद्र चिरमुले पर 5 लाख का जुर्माना लगाया गया हैं. वह कंपनी में अनुसंधान और विकास विभाग के वरिष्ठ उपाध्यक्ष के रूप में कार्यरत थे.

कारोबार बंद रखे जाने के बावजूद कंपनी के शेयरों में सौदे करने के कारण चिरमुले पर जुर्माना लगाया गया. चिरमुले ने ऐसा कर भेदिया कारोबार निषेध (पीआईटी) नियमों का उल्लंघन किया है.

जांच में हुआ खुलासा

सेबी ने विस्तृत जांच में पाया कि 31 दिसंबर 2018 को समाप्त तिमाही के लिए कंपनी के वित्तीय परिणामों की घोषणा को देखते हुये अनुपालन अधिकारी ने एक से 26 जनवरी 2019 तक तक कारोबार को बंद रखा था. कंपनी के ये तिमाही परिणाम 24 जनवरी 2019 को घोषित किये गये.
यह भी पढ़ें: Gold Price Today: 3 महीने की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के बाद फिसला सोना, जानें आज कितना हो गया सस्ता?

बाजार के नियमों के अनुसार किसी भी कंपनी के प्रवर्तक, प्रवर्तक समूह के सदस्य,नामित व्यक्ति, निदेशक को दस लाख रुपये से अधिक का शेयर सौदा करने और उसकी जानकारी मिलने के दो दिन के भीतर शेयर बाजार को सूचना देनी होती है, लेकिन बायोकॉन ने बाजार को यह जानकारी हालांकि 262 दिन के बाद दी, इसके साथ ही बाजार नियमों के मुताबिक आचार संहिता का उल्लंघन करने की जानकारी नियामक को तुरंत दी जानी चाहिये. बायोकोन ने इस बारे में सेबी को 28 दिन के बाद जानकारी दी.

कितना रहा कंपनी का प्रॉफिट?



आपको बता दें वर्ष 2020-21 में कंपनी का मुनाफा 100 फीसदी से भी ज्यादा बढ़ा था. कंपनी का नेट प्रॉफिट 105 फीसदी बढ़कर 254 करोड़ रुपये पर पहुंच गया था. वहीं, रेवेन्यु की बात करें तो वह 26 फीसदी बढ़कर 2044 करोड़ पर पहुंच गया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज