Home /News /business /

महंगाई पर जल्‍द लगेगी लगाम! खाद्यान्न, तिलहन और दलहन की रिकॉर्ड पैदावार की है उम्‍मीद

महंगाई पर जल्‍द लगेगी लगाम! खाद्यान्न, तिलहन और दलहन की रिकॉर्ड पैदावार की है उम्‍मीद

कृषि मंत्रालय (Ministry Of Agriculture And Farmers Welfare) ने वर्ष 2021-22 की मुख्‍य फसलों को दूसरा अग्रिम अनुमान जारी कर दिया है.

कृषि मंत्रालय (Ministry Of Agriculture And Farmers Welfare) ने वर्ष 2021-22 की मुख्‍य फसलों को दूसरा अग्रिम अनुमान जारी कर दिया है.

कृषि मंत्रालय (Ministry Of Agriculture And Farmers Welfare) ने वर्ष 2021-22 की मुख्‍य फसलों को दूसरा अग्रिम अनुमान जारी कर दिया है. इस बार देश में रिकॉर्ड खाद्यान्न उत्‍पादन (Food Production) होने की संभावना जताई गई है.

नई दिल्‍ली. कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय (Ministry of Agriculture and Farmers Welfare) ने 2021-22 के लिए मुख्य फसलों के उत्पादन के दूसरा अग्रिम अनुमान (Second Advance Estimates of Foodgrains Production) जारी किया है. मंत्रालय का अनुमान है कि इस बार देश में 31.60 करोड़ टन रिकॉर्ड खाद्यान्न उत्पादन होगा. यह पिछले साल से 53 लाख टन ज्‍यादा है. 2020-21 में 31.07 करोड़ टन अनाज का उत्पादन हुआ था.

तिलहन और दलहन (Oilseeds And Pulses Production) का इस बार रिकॉर्ड उत्‍पादन होने का अनुमान है. ज्‍यादा उत्‍पादन से दालों और सरसों के तेल की कीमतों में कमी आ सकती है. इससे महंगाई से आम जनता को राहत मिल सकती है. मंत्रालय के मुताबिक वर्ष 2021-22 के दौरान उत्पादन विगत पांच वर्षों (2016-17 से 2020-21) के औसत खाद्यान्न उत्पादन की तुलना में 2.53 करोड़ टन अधिक होने की संभावना है.

ये भी पढ़ें : अरबपति निवेशक ने क्रिप्टोकरेंसी को बताया अत्यंत घृणा के योग्य, पहले ही हो जानी चाहिए थी बैन

चावल व गेहूं होगा भरपूर
2021-22 के दौरान चावल का कुल उत्पादन (Rice Production) 12.79 करोड़ टन रिकॉर्ड अनुमानित है. यह पिछले पांच वर्षों के 11.64 करोड़ टन औसत उत्पादन की तुलना में 1.15 करोड़ टन अधिक है. वर्ष 2021-22 के दौरान गेहूं (Wheat Production) का कुल उत्पादन रिकॉर्ड 11.13 करोड़ टन  होने का अनुमान है. यह पांच वर्षों के 10.39 करोड़ टन औसत उत्पादन की तुलना में 74.4 लाख टन अधिक है. इसी तरह मोटे अनाजों का उत्पादन 4.98 करोड़ टन अनुमानित है, जो औसत उत्पादन की तुलना में 32.8 लाख टन अधिक है

दलहन और‍ तिलहन की भी बंपर पैदावार
वर्ष 2021-22 के दौरान कुल दलहन उत्पादन 2.69 करोड़ टन अनुमानित है, जो विगत पांच वर्षों के 2.38 करोड़ टन औसत उत्पादन की तुलना में 31.4 लाख टन अधिक है. इस बार तिलहन उत्पादन में पिछले सारे रिकॉर्ड टूटने का अनुमान है. मंत्रालय ने 2021-22 के दौरान देश में कुल तिलहन उत्पादन 3.71 करोड़ टन का अनुमान लगाया है. जो वर्ष 2020-21 के दौरान 3.59 करोड़ टन उत्पादन की तुलना में 12 लाख टन अधिक है.

ये भी पढ़ें : Cryptocurrency prices today: क्रिप्टो बाजार में हल्की गिरावट, मगर एक कॉइन 3000% से ज्यादा उछला

गन्‍ना व कपास भी होगा ज्‍यादा
वर्ष 2021-22 के दौरान देश में गन्ना का उत्पादन (Sugercane Production 2022) 41.40 करोड़ टन अनुमानित है, जो 37.34 करोड़ टन औसत गन्ना उत्पादन की तुलना में 4.06 करोड़ टन अधिक है. कपास का उत्पा‍दन (Cotton Production 2022) 3.40 करोड़ गांठें (प्रति 170 कि.ग्रा.) अनुमानित है, जो 3.29 करोड़ गांठें औसत उत्पादन की तुलना में 11.2 लाख गांठें अधिक है. पटसन व मेस्ता का उत्पादन 95.7 लाख गांठें (प्रति 180 कि.ग्रा.) अनुमानित है.

Tags: Agriculture, Ministry of Agriculture and Welfare

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर