• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल का दूसरा दिन, बारिश में लोगों को हो रही काफी परेशानी

ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल का दूसरा दिन, बारिश में लोगों को हो रही काफी परेशानी

फोटो- ANI

फोटो- ANI

डीजल की कीमतों और टोल फीस में कमी की मांग को लेकर ट्रक और बस ऑपरेटर्स संगठन आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) के नेतृत्व में ट्रांसपोर्टर हड़ताल पर हैं.

  • Share this:
    देश भर के ट्रक और बस ऑपरेटर्स की हड़ताल शनिवार को दूसरे दिन भी जारी रही. सरकार के साथ बातचीत बेनतीजा रहने के बाद ट्रांसपोर्टर्स ने शुक्रवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की ऐलान किया था. इस कारण लोगों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. मुंबई में लोगों का कहना है कि इस हड़ताल के कारण उन्हें काफी दिक्कतें आ रही हैं.

    ट्रक आॅपरेटरों की हड़ताल जारी, नहीं हुई 80 हजार ट्रकों में कोई लोडिंग-अनलोडिंग

    ऐसे ही एक महिला ने कहा, 'बच्चों को समय पर स्कूल भेजना भी मुश्किल हो गया. यहां बारिश के कारण सड़कों और रेलवे स्टेशनों में पानी जमा हो गया. हमें टैक्सी भी नहीं मिल रही.'

    बता दें कि डीजल की कीमतों और टोल फीस में कमी की मांग को लेकर ट्रक और बस ऑपरेटर्स संगठन ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) के नेतृत्व में ट्रांसपोर्टर हड़ताल पर हैं. एआईएमटीसी के महासचिव नवीन गुप्ता ने कहा कि वित्त मंत्री पीयूष गोयल के साथ चर्चा जारी रही, लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकलने के कारण शुक्रवार सुबह हड़ताल पर जाने का फैसला किया गया.



    गुप्ता ने कहा कि संगठन को संबंधित मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक की उम्मीद है. इससे पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने तीन महीने का समय मांगा था. गुप्ता ने कहा, 'हम आज कुछ ठोस समाधान निकलने की उम्मीद कर रहे हैं.' बता दें कि ट्रांसपोर्टर्स की मांग है कि डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाए.

    ट्रक-बस ऑपरेटर्स की अनिश्चितकालीन हड़ताल, आम आदमी पर होगा ये असर

    एआईएमटीसी ने कहा कि वे 'दोषपूर्ण और गैर-पारदर्शी' टोल कलेक्शन सिस्टम के भी खिलाफ हैं, क्योंकि इस वजह से र्इंधन और समय के नुकसान से सालाना 1.5 लाख करोड़ रुपये की चपत लगती है.

    इसके अलावा उन्होंने अधिक बीमा प्रीमियम और थर्ड पार्टी बीमा प्रीमियम पर जीएसटी से छूट देने की भी मांग की है. (एजेंसी इनपुट)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज