किरण मजूमदार शॉ ने कहा, कोरोना की दूसरी लहर के कारण देश को हुआ सुनामी जैसा नुकसान

किरण मजूमदार शॉ

किरण मजूमदार शॉ

किरण मजूमदार शॉ (Kiran Mazumdar Shaw) ने कहा कि कोरोना के मामले बहुत अधिक बढ़ने के पीछे राज्यों में चुनाव और धार्मिक आयोजन बड़े कारण हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. देश इस वक्त कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर से जूझ रहा है. मृतकों को संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. वहीं, फार्मा कंपनी बायोकॉन (Biocon) की मुखिया किरण मजूमदार शॉ (Kiran Mazumdar Shaw) ने कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर से भारत को सुनामी जैसा नुकसान हुआ है. शॉ ने कहा कि कोरोना के मामले बहुत अधिक बढ़ने के पीछे राज्यों में चुनाव और धार्मिक आयोजन बड़े कारण हैं.

उन्होंने वन शेयर वर्ल्ड की ओर से दुनिया भर में वैक्सीन की स्थिति पर आयोजित एक वर्चुअल डिस्कशन में कहा, "कोरोना की दूसरी लहर सुनामी से जैसे टकराई है. दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि इसने देश के किसी हिस्से को नहीं छोड़ा है. इस बार शहरों के साथ ही गांवों में भी लोग संक्रमित हुए हैं क्योंकि कुछ राज्यों में चुनाव होने के साथ ही धार्मिक आयोजन भी किए गए जिससे यह मुश्किल काफी बढ़ गई.''

ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीन के पेटेंट में छूट को लेकर भारत की पहल पर अमेरिका ने दिया WTO में समर्थन

शॉ ने कहा, "हमारे पास मरीजों के इलाज के लिए दवाओं की कमी है. हॉस्पिटल बेड्स और ऑक्सिजन जरूरत से काफी है. इसके अलावा हमारे पास लोगों को तेजी से वैक्सीन लगाने के लिए पर्याप्त संख्या में वैक्सीन भी उपलब्ध नहीं हैं. जनसंख्या अधिक होने से चुनौतियां बढ़ गई हैं.''
शॉ ने संकट के इस दौर में भारत की मदद के लिए कई देशों के आगे आने का स्वागत किया.

कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, 24 घंटे में मिले 4.12 लाख नए केस

गौरतलब है कि देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्‍या हर दिन नए रिकॉर्ड बना रही है. पिछले 24 घंटे में नए मरीजों और मौत के आंकड़ों ने पुराने सभी रिकॉर्ड ध्‍वस्‍त कर दिए हैं. पिछले एक दिन में देशभर में 4 लाख 12 हजार 262 पॉजिटिव केस सामने आए हैं, जबकि 3,980 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. ये दूसरी बार है जब एक दिन में कोरोना के 4 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं. इससे पहले 30 अप्रैल को 4 लाख 2 हजार 14 मामले सामने आए थे. उस दिन 3525 मरीजों की मौत हुई थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज