Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    सात महीने बाद सेंसेक्स 40 हजार अंक से ऊपर, IT कंपनियों के शेयर चमके

    बीएसई सेंसेक्स (प्रतीकात्मक तस्वीर)
    बीएसई सेंसेक्स (प्रतीकात्मक तस्वीर)

    बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) में गुरुवार को लगातर छठे कारोबारी सत्र में तेजी बनी रही. बीएसई सेंसेक्स 300 अंक से अधिक की बढ़त के साथ 40 हजार अंक के ऊपर बंद हुआ.

    • Share this:
    मुंबई. बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) में गुरुवार को लगातर छठे कारोबारी सत्र में तेजी बनी रही. बीएसई सेंसेक्स 300 अंक से अधिक की बढ़त के साथ 40 हजार अंक के ऊपर बंद हुआ. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) के बेहतर वित्तीय परिणाम के बाद आईटी कंपनियों के शेयर चमक में रहे. टीसीएस के परिणाम को देखने के बाद यह माना जा रहा है कि सॉफ्टवेयर (Software) सेवा उद्योग के लिए बुरा दौर समाप्त हो गया है.

    तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स में कारोबार के दौरान एक समय 400 अंक से अधिक का उछाल आया था लेकिन अंत में यह 303.72 अंक यानी 0.76 प्रतिशत मजबूत होकर 40,182.67 अंक पर बंद हुआ. इससे पहले, 25 फरवरी को सेंसेक्स 40,000 अंक के ऊपर बंद हुआ था.

    इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 95.75 अंक यानी 0.82 प्रतिशत उछलकर 11,834.60 अंक पर बंद हुआ.



    सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में अल्ट्राटेक सीमेंट रही. इसमें 3.24 प्रतिशत की तेजी आई. इसके अलावा टीसीएस, एचीएल टेक, इन्फोसिस, एचडीएफसी बैंक और सन फार्मा में भी अच्छी तेजी दर्ज की गई. टीसीएस का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 4.9 प्रतिशत बढ़कर 8,433 करोड़ रुपये रहा. कंपनी ने 3,000 रुपये प्रति शेयर के भाव पर 16,000 करोड़ रुपये मूल्य की पुनर्खरीद योजना की भी घोषणा की है.
    जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ''आईटी और बैंकों की अगुवाई में दूसरी तिमाही के बेहतर परिणाम की शुरूआत के साथ पुनर्खरीद जैसी सकारात्मक घोषणा से बाजार धारणा पर अच्छा प्रभाव पड़ा. साथ ही भारत और अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज जारी होने की उम्मीद बढ़ी है. शुरू में यह सोचा जा रहा था कि घरेलू प्रोत्साहन पैकेज सीमति होगा। कुछ अधिकारियों की टिप्पणी के बाद सोच बदला है. अब यह माना जा रहा है कि प्रोत्साहन बड़ा होगा.''

    वैश्विक स्तर पर एशिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई, दक्षिण कोरिया में सोल और जापान के तोक्यो बाजारों में तेजी रही. चीन में हांगकांग नुकसान में रहा. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में तेजी रही. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड का भाव 1.62 प्रतिशत मजबूत होकर 42.67 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था. विदेशी विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 9 पैसे की बढ़त के साथ 73.24 पर पहुंच गया.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज