कोरोना वायरस दवाओं की लिस्‍ट से बाहर हुई ये दवा, Biocon को लगा तगड़ा झटका हेल्‍थ मिनिस्‍ट्री ने लगाई रोक

कोरोना वायरस दवाओं की लिस्‍ट से बाहर हुई ये दवा, Biocon को लगा तगड़ा झटका हेल्‍थ मिनिस्‍ट्री ने लगाई रोक
कोरोना वायरस दवाओं की लिस्‍ट से बाहर हुई ये दवा, Biocon को लगा तगड़ा झटका

फार्म सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी बायोकॉन (Biocon) की दवा इटोलीजुमैब (Itolizumab) को केंद्र सरकार ने मंजूरी नहीं दी है. कोविड-19 मरीजों के लिए बने नैशनल ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल में इटोलीजुमैब शामिल नहीं है.

  • Share this:
नई दिल्ली. फार्म सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी बायोकॉन (Biocon) की दवा इटोलीजुमैब (Itolizumab) को केंद्र सरकार ने मंजूरी नहीं दी है. कोविड-19 मरीजों के लिए बने नैशनल ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल में इटोलीजुमैब शामिल नहीं है. जबकि करीब दो हफ्ते पहले, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने इस दवा के मॉडरेट से गंभीर कोरोना मरीजों पर इस्‍तेमाल की अनुमति दे दी थी. बायोकॉन ने ALZUMAb नाम से 25mg का इंजेक्‍शन लॉन्‍च किया था. अब स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने इस दवा के पक्ष में 'बहुत कम सबूत' होने का हवाला दिया है.

कम मरीजों पर हुआ था ट्रायल
हेल्‍थ मिनिस्‍ट्री ने एक नोट में कहा कि कोविड-19 नैशनल टास्‍क फोर्स ने पाया कि दवा के पक्ष में बेहद कम सबूत हैं. इससे पहले कई एक्‍सपर्ट्स भी दवा पर सवाल उठा चुके हैं क्‍योंकि बायोकॉन ने सिर्फ 30 मरीजों पर ट्रायल किया था.

ये भी पढ़ें:- आज से बदल गया देश में सामान खरीदने-बेचने का तरीका, जानें नया नियम
1000 मरीजों ने ली दवा: बायोकॉन


स्वास्थ मंत्रालय के बयान के बाद, बायोकॉन ने कहा कि टास्‍क फोर्स को और सबूत देखने की जरूरत है जो कंपनी मुहैया कराएगी. कंपनी ने कहा कि नैशनल कोविड टास्‍क फोर्स को और डेटा देखने की जरूरत है और हम उन्‍हें रियल वर्ल्‍ड डेटा देंगे ताकि कमिटी प्रोटोकॉल में दवा को शामिल न करने के फैसले पर पुर्नविचार करे. देशभर में करीब 1,000 मरीजों ने यह दवा यूज की है और नतीजे अच्‍छे रहे हैं.

कंपनी ने ये भी कहा कि हम पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि हम पूरे देश में 200 मरीजों पर फेज 4 ट्रायल करने जा रहे हैं. यह ट्रायल 10-15 अस्‍पतालों में होंगे. स्‍टडी प्रोटोकॉल DCGI को सबमिट किया गया है और हम ट्रायल जल्‍द शुरू कर देंगे.

ये भी पढ़ें:- अब गांव के डाकघर में भी खोले जा सकेंगे PPF, MIS खाता, नहीं जाना पड़ेगा शहर

8 हजार की है इटोलीजुमैब की एक शीशी
इटोलीजुमैब पहली ऐसी बायोलॉजिक दवा थी, जिसे कोविड-19 के मरीजों के इलाज में प्रयोग की मंजूरी मिली थी. 25mg का इंजेक्‍शन ALZUMAb नाम से लॉन्‍च हुआ था. कंपनी ने इसकी कीमत का खुलासा नहीं किया था मगर बाजार में इटोलीजुमैब के इंजेक्‍शन का वॉयल 8,000 रुपये में मिल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading