लाइव टीवी

शहद बेचकर 4.3 लाख रुपये कमाती है ये महिला, आपके पास भी शानदार मौका

News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 4:00 PM IST
शहद बेचकर 4.3 लाख रुपये कमाती है ये महिला, आपके पास भी शानदार मौका
शहद बेचकर मोटी कमाई

हनी मिशन के तहत KVIC ग्रामीण क्षेत्रों में आम लोगों को मधुमक्खी पालन की ट्रेनिंग देती है. इसी ट्रेनिंग की मदद से गुजरात की शबाना पठान ने मोटी कमाई की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 4:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार देश भर में छोटे उद्यमियों और कारोबारियों को लगातार प्रोत्साहित कर रही है. यही कारण है कि छोटे उद्यमी भी बढ़ चढ़कर केंद्र सरकार की योजनाओं को लाभ उठाते हुए अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा रहे हैं. खादी एंड विलेज इंडस्ट्रीज मिशन (KVIC) ने देश में शहद उत्पादन का महत्वकांक्षी लक्ष्य रखा है. KVIC के इस लक्ष्य से न ​केवल रिकॉर्ड स्तर पर शहद का उत्पादन हो रहा है, बल्कि हजारों लोगों के लिए वैकल्पिक आय का जरिया भी बन रहा है. शहद उत्पादन से मोटी कमाई करने वाले इन्हीं लोगों में से गुजरात की पालनपुर में रहने वाली शबाना पठान भी हैं.

3300 किलो शहद का उत्पादन करती हैं शबाना
दिसंबर 2018 में KVIC ने 'हनी मिशन' के तहत मधुमक्खी पालन के लिए शबाना को 10 बक्से दिए थे. करीब 13 महीने बाद शबाना के पास अब 130 ऐसे बक्से हैं, जिनसे वो करीब 3,300 किलोग्राम शुद्ध शहद का उत्पादन करती हैं. यही नहीं, वो 130 रुपये प्रति किलो की दर से एक डेयरी को शहद की बिक्री भी करती हैं. इस दर से उनके द्वारा कुल शहद उत्पादन की कीमत करीब 4.29 लाख रुपये बनता है.



 

यह भी पढ़ें: वित्त मंत्री ने कहा- बजट में हमने 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था की बुनियाद रखी

KVIC के चेयरमैन वी के सक्सेना ने ट्वीट कर इस बारे में कहा, 'मीलिए गुजरात के पालनपुर में रहने वाली शबाना पठान से. हनी मिशन के तहत इन्हें​ दिसंबर 2018 में 10 बी बॉक्स दिए गए थे. उनके पास अब 130 ऐसे बी बॉक्स हैं और अब तक इन्होंने कुल 3,300 किलोग्राम शहद का उत्पादन किया है.'


ग्रामीण लोगों को मिल रहा वैकल्पिक आय का साधन
KVIC के लिए केवल खादी ही नही बल्कि ग्रामीण उद्योग भी एक महत्वपूर्ण सेग्मेंट है, जिसके जरिए ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए वैकल्कि आय का एक साधन मिल रहा है. KVIC ने ग्रामीक्ष क्षेत्रों में जरूरतमंद लोगों को बी बॉक्स और इलेक्ट्रिक चाक मुहैया कराया है.



 

यह भी पढ़ें: बिल गेट्स ने ₹4600 करोड़ में खरीदी सुपरयॉट, तस्वीरें देख कहेंगे Wow

दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा शहद उत्पादक बनने का लक्ष्य
बता दें कि हनी मिशन के तहत इस साल KVIC भारत को दुनिया का छठां सबसे बड़ा शहद उत्पादक देश बनाना चाहता है. वहीं, अगले दो साल में यह लक्ष्य दुनिया की दूसरा सबसे बड़ा शहद उत्पादक देश बनने का है. इसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए KVIC ने वित्त वर्ष 2017-18 और 2019-20 के बीच करीब 1,29,469 बी बॉक्स बांटा है. साथ ही, KVIC ने करीब 13,066 लोगों मधुमक्खी पालन की ट्रेनिंग दी है.

यह भी पढ़ें: आधार से नहीं कराया लिंक तो बेकार हो जाएगा आपका पैन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 3:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर