Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    724 अंक चढ़ा सेंसेक्स, निफ्टी भी 12,100 के पार, ये 4 फैक्टर्स बने प्रमुख कारण

    शेयर बाजार
    शेयर बाजार

    अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों के बीच आज वैश्विक बाजारों में तेजी रही. इन्हीं वैश्विक संकेतों की वजह से आज घरेलू बाजार में बढ़त दर्ज की गई है. हालांकि, इसके अलावा भी कई ऐसे फैक्टर्स रहे, जिनकी वजह से आज बाजार में तेजी आई है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 5, 2020, 5:59 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. आज शेयर बाजार (Share Market) में प्रमुख इंडेक्स में तेजी देखने को ​मिली. गुरुवार को दिनभर के कारोबार के बाद 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स (BSE Sensex) 724 अंक यानी 1.78% की बढ़त के साथ 41,340.16 पर बंद हुआ. निफ्टी 50 भी आज तेजी के साथ 12,100 के पार बंद होने में कामयाब रहा. सभी सेक्टोरल इंडेक्स हरे निशान पर बंद हुए. सबसे ज्यादा तेजी निफ्टी मेटल में देखने को मिली, जबकि बैंक, एनर्जी और इन्फ्रा इंडेक्स में 2 फीसदी तक की तेजी रही. बीएसई मिडकैप (BSE Midcap) और स्मॉलकैप (BSE Small Cap) में भी 1.5 फीसदी तक की तेजी रही. अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव (US Presidential Election) को लेकर कड़ी टक्कर के बीच वैश्विक संकेतों पर नजर रखते हुए घरेलू बाजार में आज तेजी देखने को मिली.

    ​ताजा जानकारी के अनुसार, अमेरिका में इलेक्टोरल कॉलेज वोटों के आधार पर डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन (Joe Biden) रिपब्लिकन पार्टी के डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से आगे चल रहे हैं. राष्ट्रपति बनने के लिए 270 का आंकड़ा पार करना जरूरी होगा.

    यह भी पढ़ें: 1200 रुपये सस्ता होने के बाद आज फिर बढ़ गये सोने के दाम, जान लीजिए नई कीमत



    किन 5 वजहों से आज शेयर बाजार में तेजी रही?
    वैश्विक बाजारों में मजबूती: वैश्विक बाजार में तेजी के बीच आज घरेलू इक्विटी बाजार में भी तेजी देखने को मिली. अमेरिकी बाजार में Nasdaq और S&P 500, जापान के निक्केई, चीन के शंघाई कम्पोजिट इंडेक्स और कोरिया के कोस्पी इंडेक्स में बढ़त रही.

    एशियाई बाजारों में ठीकठाक कारोबार रहा. चुनाव नतीजों की उम्मीद के बीच बॉन्ड्स में बड़ी तेजी देखने को मिली. रॉयर्टस के मुताबिक, निवेशकों को उम्मीद है कि डेमोक्रेटिक पार्टी को जीत मिलने के बाद बड़े प्रोत्साहन उपायों का ऐलान हो सकता है.

    यह भी पढ़ें: क्या आपके खाते में भी लग रहा पैसा जमा करने और निकालने पर चार्ज, सरकार ने कहा...!

    आईटी और बैंकिंग सेक्टर के बड़े स्टॉक्स में तेजी: इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और बैंकिंग सेक्टर के हैवीवेट्स में तेजी देखने को मिली. इनमें इन्फोसिस, TCS, भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक और एचसीएल टेक्नोलॉजी के स्टॉक्स शामिल हैं. इन्हीं स्टॉक्स में बड़ी तेजी के बाद सेंसेक्स में बढ़त देखने को मिली. डॉलर में मजबूती की वजह से भी आईटी स्टॉक्स (IT Stocks) में बढ़त रही. जबकि, दूसरी तिमाही में SBI के शानदार नतीजों के बाद बैंकिंग स्टॉक्स में तेजी रही.

    मैक्रो परिदृश्य बेहतर: देश में मैक्रो परिदृश्य के बेहतर होने के बाद निवेशकों का भरोसा बढ़ा है. बीते 8 महीनों में पहली बार अक्टूबर में प्रमुख सर्विस इंडस्ट्रीज में गतिविधियां बेहतर हुई हैं. आईएचएस मार्किट सर्विस पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (IHS Markit Service Purchasing Index) अक्टूबर में बढ़कर 54.1 पर पहुंच गई है. सितंबर महीने में यह 49.8 पर रहा था. फरवरी के बाद पहली बार यह 50 के पार पहुंचा है.

    यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट में ब्याज पर ब्याज माफी की सुनवाई 18 नवंबर तक टली

    विदेश फंड: NSDL के आंकड़ों से पता चलता है कि अक्टूबर के बादा से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI) लगातार खरीदारी कर रहे हैं. अक्टूबर में FPI ने 21,826 करोड़ रुपये का निवेश किया है. नवंबर महीने में अब तक 3,188 करोड़ रुपये का निवेश आ चुका है. 4 नवंबर को घरेलू बाजार से FPI ने 146.22 करोड़ रुपये के शेयर्स खरीदे हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज